Breaking News
  • राजकीय सम्मान के साथ मनोहर पर्रिकर का अंतिम संस्कार
  • प्रयागराज से वाराणसी तक बोट यात्रा कर रही हैं प्रियंका गांधी
  • बोट यात्रा से पहले प्रियंका ने किया गंगा पूजन, देश का उत्थान और शांति मांगी
  • आतंकवाद के खिलाफ़ कार्रवाई में सुरक्षाबलों के हाथ बड़ी सफलता, 36 घंटों के अंदर 8 आतंकी ढेर
  • पाकिस्तान ने राष्ट्रीय दिवस पर अलगाववादी नेताओं को किया आमंत्रित, भारत ने जताया सख्त ऐतराज
  • शहीद दिवस पर आजादी के अमर सेनानी वीर भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु को नमन कर रहा है देश
  • आज IPL के 12वें सीजन का आरंभ, एम एस धोनी और विराट कोहली आमने-सामने

केरल में रेड अलर्ट: बचाव कार्य के लिए उतरी सेना और एनडीआरएफ

थिरुवनंतपुरम: केरल में भारी बारिश और बांध से पानी छोड़े जाने के बाद राज्य में भीषण बाढ़ और भूस्खलन से तबाही मच गयी है। भूस्खलन में अभी तक 26 लोगों के मारे जाने की खबर है। वहीँ राज्य राज्य सरकार ने केरल में रेड अलर्ट घोषित किया है।

बतादें की केरल में इदामालयर बांध से गुरुवार को करीब 600 क्यूसेक पानी छोड़े जाने के बाद तबाही आ गयी है। बाँध से पाई छोड़े जाने और भारी बारिश केबीच राज्य में अभी तक 26 लोग मारे जा चुके हैं। भारी बारिस और बाढ़ के कारण भूस्खलन की घटनाएं भी बढ़ गयी हैं। जिसको देखते हुए राज्य के मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने अलप्पुज्हा में शनिवार को होने वाली सालाना नेहरू रेस स्थगित कर दी है। साथ ही केरल में रेड अलर्ट की घोषणा करते हुए अतिरिक्त बचाव दल की मांग की है।

वहीँ राज्य के आपदा नियंत्रण कक्ष ने एक बयान में कहा है कि राज्यभर में हुए भूस्खलन में अबतक 26 लोगों के मारे जाने की खबर है। वहीँ सैकड़ों लोग लापता भी बताये जा रहे हैं। शुक्रवार को राज्य के मुख्यमत्री ने विजयन ने कहा कि जैसा कि हमने कहा, इडुक्की बांध के एक फाटक को खोलने पर विचार किया जा सकता है।

मोदी सरकार का आखिरी मानसून सत्र: इस महत्वपूर्ण बिल पर लगनी है मुहर

फिर शर्मसार हुई दिल्ली: NDMC के वाटर पंप में छह साल की बच्ची से रेप

सावधानी के तौर पर, कोचीन इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड ने सूचित किया है कि 2.30 बजे तक सभी आने वाली उड़ानों को अन्य गंतव्यों में डाइवर्ट कर दिया जाएगा। भारी बारिश के कारण उड़ाने भी प्रभावित हुई हैं। गुरुवार को एअरपोर्ट बंद करवा पड़ा। भारी बारिश और भूस्खलन की घटनाओं के बीच राज्य सरकार ने केंद्र से तत्काल मदद की मांग की थी। जिसके बाद सेना और राष्ट्रीय आपदा विभाग ने बचाव कार्य शुरू कर दिया है।

यह भी देखें-

loading...