Breaking News
  • जम्मू-कश्मी: सोपोर में आतंकियों और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़, कई इलाकों में मोबाइल और इंटरनेट सेवा बंद
  • सपा-बसपा सरकारों के पास गरीबी को हटाने के लिए कोई एजेंडा नहीं था: सीएम योगी
  • सर्जिकल स्ट्राइक के दो साल पूरे होने पर देश मनाएगा पराक्रम पर्व
  • आज सुबह 9:17 बजे असम की बारपेटा में 4.7 तीव्रता से भूकंप के झटके

कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस की सरकार से पहले बगवात की खबर, जाने क्या है पूरा सच!

बेंगलुरु: कर्नाटक में हुए विधानसभा चुनाव के परिणाम अब पूरी तरह से साफ हो चुके हैं, वहीं सरकार बनाने का फैसला भी लगभग तय हो चुका है। लेकिन इस बीच मीडिया में खबर आई की कर्नाटक में जेडीएस पार्टी को समर्थन देने के मामले पर कांग्रेस पार्टी में बगावत की स्थिती है। हालांकि इसके कुछ समय बाद ही इस मामले पर दोनों दलों की ओर से बयान जारी कर पूरे मामले को साफ कर दिया गया।

इससे पहले आपको बता दें कि विधानसभा चुनाव 2018 में केंद्र की सत्ताधारी बीजेपी 104 सीटे जीतकर सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरी है, लेकिन बीजेपी बहुमत की सरकार बनाने के लिए जरूरी 113 सीटों के आकड़े तक नहीं पहुंच सकी है, हालांकि इसके बाद भी बीजेपी नेताओं का दावा है कि वे इस दिशा में अपने विकल्प तलाश रहे हैं।

लेकिन इसी बीच चुनाव में 78 सीटें जीतकर दूसरे नंबर की पार्टी कांग्रेस पार्टी ने 38 सीटें जीतने वाली तीसरे नंबर की पार्टी जेडीएस को अपने सनर्थन का ऐलान किया। जिसके बाद अब कांग्रेस+जेडीएस की कुल सीटें राज्य में सरकार बनाने के लिए काफी हैं। लेकिन इसी बीच खबर आई की जेडीएस को समर्थन के मामले पर कांग्रेस में बगावत की स्थिती दिख रही है।

हालांकि इसके बाद कांग्रेस और जेडीएस की बैठक के बाद कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा है कि पार्टी में बगवात की खबर निराधार है। उन्होंने कहा कि जेडीएस नेता एच डी कुमारास्वामी ही मुख्यमंत्री बनेंगे। वहीं बगावत की खबरों को खारिज करते हुए कुमारास्वामी ने भी कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है, जेडीएस को समर्थन करने से कांग्रेस के कोई विधायक नाराज नहीं हैं।

आपको बता दें कि दोनों नेताओं ने यह बयान एक होलट में हुए मिटिंग के बाद दिया है। बैठक के बाद कांग्रेस नेता और पूर्व सीएम सिद्धारमैया ने कहा कि दोनों दलों के पास बहुमत के लिए जरुरी आकड़े हैं और हम सब एक साथ है। बता दें कि 224 विधानसभा सीटों वाले राज्य कर्नाटक में 222 सीटों के लिए ही चुनाव हुए हैं। लिहाजा फिलहाल बहुमत के लिए 112 सीटों की जरूरत है।

वाराणसी में भयंकर हादसा, निर्माणाधीन पुल का हिस्सा गिरा- कई लोगों की मौत!

बड़ी खबर: न तो मोदी की आंधी और न ही राहुल गांधी, कर्नाटक को मिल गए ‘H D’ सीएम!

कर्नाटक से बड़ी खबर, पहले दूसरे की नहीं तीसरे नंबर की सरकार में पूर्व PM के बेटे बनेंगे CM, जाने कैसे हुआ ये सब...

loading...