Breaking News
  • आईसीसी महिला विश्व टी-20 चैम्पियनशिप के अंतिम ग्रुप मुकाबले में भारत का सामना ऑस्ट्रेलिया से
  • जममू-कश्मीर: पंचायत चुनाव के पहले चरण के लिए वोटिंग, जम्मू-21, घाटी-16 और लद्दाख के 10 ब्लॉको में वोटिंग
  • प्रधानमंत्री मोदी का मालदीव दौरा, नवनिर्वाचित राष्ट्रपति सोलिह के शपथ ग्रहण समारोह

50 शूटर्स के निशाने पर 36 दिग्गज, पत्रकार लंकेश की हत्या में हैरान कर देने वाला खुलास

नई दिल्ली: पिछले दिनों बैंगलोर में एक महिला पत्रकार की हत्या के मामले में पूरे देश को झकझोर दिया था। जिसके अब मामले के कई महीने बीच चुके हैं, लेकिन मामले में आय दिन नए-नए खुलासों का सिलसिला अब भी जारी है। लंकेश की हत्या को लेकर बताया जाता है कि उनकी हत्या इसलिए कर दी गई क्योंकि हत्यारे उन्हें 'एंटी-हिन्दू' मानते थे।

जिसके बाद अब इस मामले में एक और हैरान कर देने वा खुलासा हुआ है। इससे पहले बता दें कि दिग्गज पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या 5 सितंबर 2017 को उस समय कर दी गई थी जब वह अपने दफ्तर से लौट रही थीं। इस दौरान बाइकसवार दो लोगों ने उनपर ताबड़तोड़ कई गोलियां दाग कर उनकी हत्या कर दी थी।

लक्ष्मण का टीला था लखनऊ की टीले वाली मस्जिद, जाने अब क्यो मचा है घमासान!

मामले में पुलिस ने 6 लोगों को गिरफ्तार किया है, वहीं तीन लोगों की अब भी तलाश जारी हैं। इस बीच मामले की जांच कर रही पुलिस ने संदिग्ध अमोल काले की डायरी के हवाले से चौंकाने वाला खुलासा किया है। डायरी में लिखी गई जानकारियों के आधार पर बताया जाता है कि लंकेश अकेली नहीं थी, जो इन हत्यारों के निशाने पर थी। इनके निशाने पर करीब 36 लोग थे।

बतायाजा है कि डायरी में कई सारी बातें बातें कोड वर्ड में लिखी गई हैं, खबरों के अनुसार इसमें 50 शूटर्स का जिक्र किया है, जिनके निशाने पर कुल 36 लोग थे और इनमें से 10 लोग कर्नाटक के थे। डायरी में जिन लोगों को मारने की बात की जा रही है, उन सभी लोगों हिंदू विरोधी बताया गया है। वहीं 50 शूटर्स नें शामिल कई लोग महाराष्ट्र और कर्नाटक से थे।

बड़ी खबर: अमित शाह से डर कर BJP में नहीं TMC में शामिल हुए 4 बंगाली परिवार

वहीं बताया जाता है कि बेलगांव, हुबली और पुणे में कई लोगों को हथियार और बम बनाने की ट्रेनिंग भी दी जा रही थी। खबरों के अनुसार शूटर्स का चयन कर्नाटक, महाराष्ट्र और गोवा में आयोजित हिंदू संगठनों के कार्यक्रम से किया जाता था। बताया जाता है कि परशुराम वाघमारे नाम के शख्स ने गौरी लंकेश पर गोली चलाया था, जिसके इसके लिए पैसे भी दिए गए थे। लंकेश की हत्या से पहले वाघमारे को तीन हजार रुपये मिले जबकि हत्या के बाद उसे 10 हजार रुपये और मिले।

संजू बाबा की दुुनिया बदल देगा संजू, फिल्म देखने से पहले 2 मिनट में पढ़िए धाकड़ रिव्यू

loading...