Breaking News
  • संसद का शीकालीन सत्र आज से शुरू, प्रधानमंत्री ने कहा चर्चा होनी चाहिए
  • 5 राज्यों मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, तेलंगाना और मिज़ोरम में मतगणना

ये आदतें बर्बाद कर रही है आपके मधुर संबंध को, जानिए कैसे

किसी भी व्यक्ति की यह इच्छा होती है कि वह अपने जीवन संगिनी के साथ खुश रहें। उसके घर में खुशहाली हो लेकिन वह न चाहकर भी कुछ ऐसी गलतियां कर देता है, जिसका असर उसके परिवारिक जीवन पर पड़ता है। अगर आप चाहते है कि आपकी पत्नी या आपके गर्लफ्रेंड के बीच मधुर संबंध बना रहें और आप दोनों हमेशा खुश रहें, इसके लिए यह आवश्यक है कि आप उन आदतों को छोड़े जिसे आप अभी तक अपनाएं हुए है। आइये हम आपको बताते है कि क्या हैं आपकी वह आदत

कुंवारी लड़कियों की तुलना में क्यों शादीशुदा महिलाओं के साथ संबंध बनाना चाहते हैं लड़कें !

 
नींद की कमी :  पुरुषों में सेक्‍स और नींद का बहुत ही गहरा संबंध होता है। यह मैं नहीं इस बात की पुष्टि एक अध्ययन कर रही है। अध्ययन के अनुसार, जिन पुरुषों को नींद की कमी होती है, उनके शरीर मे टेस्‍टोस्‍टेरोन हार्मोन का स्‍तर कम होता है। टेस्‍टोस्‍टेरोन ही पुरुषों में कामेच्‍छा को बढ़ाने का काम करता है। टेस्‍टोस्‍टेरोन की कमी के चलते पुरुषों की कामेच्‍छा यानी सेक्‍स करनी की इच्‍छा में कमी आ जाती है। जिन पुरुषों को रात में अच्‍छी नींद नहीं आती है, वे रात के समय कम टेस्‍टोस्‍टेरोन के स्‍तर से गुजरते हैं। एक हेल्‍दी सेक्‍स लाइफ के लिए अच्‍छी नींद लेना बहुत जरुरी है।

कामेच्छा ( सेक्स पावर ) बढ़ाने में मदद करता हैं यह फल!

दवाईयों का सेवन :  दवाईयों के सेवन से कुछ विशेष प्रकार की दवाओं को लेने से भी पुरुषों में टेस्‍टोस्‍टेरोन के स्‍तर में कमी आ सकती है, जिसकी वजह से उनमें सेक्‍स करने की इच्‍छा कम होने लगती है। अगर किसी दवा का सेवन करने के बाद आपको महसूस होता है कि आप में यौन उत्‍तेजना में कमी आई है तो आप इस संबंध में आप अपने डॉक्‍टर से संपर्क करें, वे विकल्‍प के तौर पर आपकी दवाओं को बदल सकते है।

गर्भ से बचने के लिए सिर्फ महिलाएं ही नहीं अब पुरुषों को भी खाना पर सकता हैं गर्भनिरोधक गोली!

मास्‍टरबेट (हस्तमैथुन) की आदत छोड़े : इस बात में कोई शक नहीं है कि मास्‍टरबेशन एक हेल्‍दी एक्टिविटी है, कभी कभी इसे करने में कोई प्रॉब्‍लम नहीं है। लेकिन कभी कभार हद से ज्‍यादा मास्‍टरबेशन करना या मास्‍टरबेट की लत लग जाने की वजह से आपकी सेक्‍स लाइफ बर्बाद हो सकती है। एक बार अगर आपको खुद से संतुष्‍ट होने की लत लग गई तो पार्टनर के साथ सेक्‍स करने में आपको बिल्‍कुल भी रोमांच नहीं आएगा। इसलिए कोशिश करें कि आप इस आदत को छोड़ दें वरना आप असली सेक्‍स यानी पार्टनर के साथ सेक्‍स करने के रोमांच से हाथ धो बैठेंगे।

अगर आप लंबे समय तक नहीं बनाते हैं संबंध तो आपको हो सकती हैं ये गंभीर समस्या

व्‍यस्‍त लाइफस्‍टाइल : व्‍यस्‍त लाइफस्‍टाइल सेक्‍स लाइफ खराब होने या सेक्‍स में कमी आने की पीछे एक वजह बिजी वर्क शेड्यूल भी है। आजकल लोगों की लाइफ स्‍टाइल बहुत व्‍यस्‍त हो चुकी है, लोगों के पास अपने और दूसरों के लिए फुसर्त के पल भी नहीं है, जिसका प्रभाव उनकी पर्सनल लाइफ पर पड़ने लगा है। ऑफिस में देर तक बैठना, ज्‍यादा वर्क लोड और घंटो लेपटॉप पर बिताने के वजह से स्‍ट्रेस और थकान की समस्‍या लोगों में देखी जाने लगी है। जिस वजह से पुरुष अक्‍सर सेक्‍स लाइफ का इग्‍नोर करने लगे हैं। सेक्‍स लाइफ को जीने क लिए आपको समय निकालना पड़ेगा। एक बात याद रखें आप जीने के लिए काम करते हैं न कि काम करने के लिए जीते हैं।

अगर आप भी चाहते हैं मोटाना तो जल्द ही सिंगल से डबल होये!

डिप्रेशन का शिकार होना : डिप्रेशन की वजह से अवसाद किसी भी व्‍यक्ति के व्‍यक्तिगत जीवन को प्रभावित कर सकता है। डिप्रेशन के कारण पुरुषों और महिलाओं दोनों की यौन इच्‍छा में कमी आती है, जिससे उन्‍हें सफल और संतुष्‍ट यौन संबंध बनाने में कठिनाई होती है। इसके अलावा सेक्स में कमी कुछ एंटी ड्रिप्रेसेंट्स दवाओं का दुष्‍प्रभाव भी होता है इससे नींद आने लगती है और लिबिडो का स्‍तर कम होने लगता है। जिससे सेक्‍स लाइफ प्रभावित होती है।

पार्टनर के साथ चिपक कर सोने से मिलता हैं कई रोगों से छुटकारा

बढ़ती उम्र : बढ़ती उम्र पुरुषों में सेक्‍स लाइफ को लेकर कम होती चाह की पीछे एक वजह बढ़ती उम्र भी हो सकती है। शरीर में हार्मोनों का स्‍तर हर समय निश्चित नहीं रह सकता है। उम्र के अलग-अलग पड़ाव के साथ शरीर में मौजूद हार्मोन के स्‍तर में भी कमी आती है। टेस्‍टोस्‍टेरोन भी आपके शरीर में एक हार्मोन के रूप में उपस्थित रहता है। पुरुषों में टेस्‍टोस्‍टेरोन की अधिकतम मात्रा किशोर अवस्‍था में होती है। अध्‍ययन बताते हैं कि पुरुष आमतौर पर 60 से 65 वर्ष की उम्र के आसपास अपनी कामेच्‍छा में कमी की वजह से यौन इच्‍छा में कमी आना स्‍वाभाविक है, लेकिन इस प्रकार की समस्‍या से बचने के लिए आपको हेल्‍दी लाइफ स्‍टाइल की तरफ ध्‍यान देना जरुरी है।

प्रेमिका के इस अंग को बेच रहा था युवक, कीमत ऐसा कि...

पोर्न मूवी :  पोर्न मूवी की वजह से बहुत सारी महिलाओं की शिकायत होती है कि उनके पार्टनर को रियल सेक्‍स करने में दिलचस्‍पी नहीं आती है क्‍योंकि वे पोर्न देखने की आदी हो चुके है। पोर्न मूवीज ने कई तरह से सेक्‍स लाइफ को प्रभावित किया है। कई लोग पोर्न को वास्‍तविक सेक्‍स से जोड़कर देखते है इस वजह से वो वास्‍तविक सेक्‍स लाइफ की पोर्न से तुलना करने लग जाते है। जब उनकी पार्टनर उनकी फैंटेसी के धरातल पर खरी नहीं उतरती है तो उनको अपनी सेक्‍स लाइफ बोरिंग लगने लगती है और ऐसे उनकी सेक्‍स लाइफ बर्बाद होने लगती है।

OMG : कुत्ते ने की ड्राइविंग तो पुलिस ने लगाया जुर्माना, देखिए VIDEO

loading...