Breaking News
  • मोदी की बंपर जीत पर राहुल गांधी ने दी शुभकामनाएं
  • अमेठी सीट से हारे राहुल गांधी, वायनाड से मिली जीत
  • प्रियंका गांधी के साथ कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में पहुंचे राहुल गांधी
  • राहुल गांधी के इस्तीफे पर सस्पेंस बरकरार
  • मां से आशीर्वाद लेने के लिए कल गुजरात जाएंगे मोदी
  • सूरत अग्निकांड में अब तक 21 की मौत, 3 के खिलाफ FIR दर्ज
  • चार धाम यात्रा: छह महिने के बाद खुले केदारनाथ धाम के कपाट, कल खुलेंगे बद्रीनाथ के कपाट
  • वो (ममता) अब मेरे लिए पत्थरों और थप्पड़ों की बात करती हैं: मोदी
  • पश्चिम बंगाल के बांकुरा में पीएम मोदी की चुनावी रैली, ममता पर बोला हमला
  • लोकसभा चुनाव 2019: NDA को प्रचंड बहुमत, 300 से अधिक सीटों पर बीजेपी की जीत
  • 24 मई: आज भंग हो सकती है 16वीं लोकसभा, पीएम मोदी की अध्यक्षता में केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक

अलगाववादियों ने निशाने पर हैं यह नेता, जान से मारने की मिल रही धमकी

चंडीगढ़: पंजाब में नेताओं को अलगाववादियों द्वरा धमकी मिलने का मामला सामने आया है। लोकसभा में इस बात की जानकारी दी गयी है कि देश के बाहर बैठे आतंकी संगठन पंजाब के नेताओं को धमकी दे रहे है।

बतादें कि खालिस्तान सहित पंजाब को अलग करने की मांग करने वाले खालिस्तानी आतंकी संगठन के लोगों ने अब पंजाब के नेताओं को निशाना बनाना शुरू कर दिया है। कांग्रेस पार्टी के नेता और पंजाब से लोकसभा सांसद सुनील जाखड़ ने इस मुद्दे को लोकसभा में सरकार के समक्ष उठाया। इतना ही नहीं उन्होंने कहा कि पंजाब के अलग-अलग राजनीतिक नेताओं को विदेशों में बैठे अलगाववादी तत्वों द्वारा धमकी दी जा रही है। वह पंजाब के नेताओं को निशाना बनाने की धमकी दे रहे हैं।

दमन: पूर्व सीएम और कांग्रेस नेताओं पर पुलिस ने दागी गोलियां, कई घायल

ऐसे में इस मामले को सरकार गंभीरता से ले और हस्तक्षेप करे। इसके साथ ही जाखड़ ने संसद भवन में साथी सांसदों गुरजीत सिंह औजला और रवनीत सिंह बिट्टू द्वारा लोकसभा में पूछे एक सवाल के जवाब में केंद्र सरकार ने भी यह स्वीकार किया है कि देश से बाहर बैठे अलगाववादी संगठनों के लोग पंजाब के नेताओं को धमकियां दे रहे हैं।

इतिहास में पहलीबार: राज्यसभा की कार्यवाही से हटाया गया पीएम मोदी का विवादित बयान

यह जवाब केंद्रीय गृह राज मंत्री हंसराज गंगाराम अहीर ने लोकसभा में दिया था। देश से बाहर बैठे अलगाववादी लोग या खालिस्तान की मांग करने वालों ने वीडियो, मेल और अन्य माध्यमों से पंजाब में विभन्न नेताओं को धमकी दे रहे हैं। ऐसे में उनकी धमकी को नजरंदाज नहीं किया जा सकता है। क्योंकि यह अलगाववादी आतंक की राह पर निकल चुके हैं। यह कभी भी किसी भी नेता को अपने निशाने पर ले सकते हैं। पहले भी पंजाब में कई नेता मारे जा चुके हैं।

यह भी देखें-   

 

loading...