Breaking News
  • पर्थ टेस्ट: ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी 326 पर ऑल आउट, ईशांत शर्मा ने झटके 4 विकेट
  • JK: पुलवामा में सुरक्षाबल और आंतकियों के बीच, तीन आतंकी ढेर, दो जवान घायल
  • नेपाल: नुवाकोट जिले में हुए एक सड़क हादसे में 20 की मौत, 17 घायल

फर्जी डिग्री पर बुरी फंसी हरमनप्रीत कौर, मीडिया के सामने हुईं हाल बेहाल!

नई दिल्ली: भारतीय महिला क्रिकेट टीम के सबसे छोटे फॉर्मेट की कप्तान और विस्फोटक बल्लेबाज हरमनप्रीत कौर के साथ एक बड़ा विवाद सामने आया है, जिसके कारण मैदान पर गेंदबाजों की छक्के छुड़ाने वाली हरमनप्रीत मीडिया बचती फिर रही है। हरमनप्रीत के साथ यह विवाद उनकी ग्रेजुएशन की डिग्री को लेकर है, जिसे फर्जी बताया जाता रहा है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार फर्जी डिग्री पर सवाल जवाब के हरमनप्रीत घबरा रही है। इस बीच मंगलवार को वह एक प्राइवेट कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर पहुंती थी, जहां उनसे मीडियाकर्मी इस संबंध में राय जानने की कोशिश की। आरोप है कि इस दौरान हरमनप्रीत काफी देर तक मीडिया को चकमा देती रही, लेकिन मीडियाकर्मी भी हरमनप्रीत का इंतजार करते ही रहे।

दिल्ली में 11 लाश: घर में क्यों नहीं जाता था कोई पड़ोसी, देखिए मौत से 12 घंटे पहले का VIDEO !

बताया जाता है कि कार्यक्रम की शुरुआत करीब 11: 30 बजे ही होनी थी और हरमनप्रीट समय पर पहुंच भी गई थी, लेकिन यहां मीडियाकर्मी भी हरमनप्रीत के इंतजार में बैठे रहे। इसलिए हरमनप्रीत काफी देर तक अपने वैनिटी वैन से बाहर नहीं निकली और जब निकली तो सिर्फ इतना कहा कि की यह मामला सरकार के पास है और मैं इसमें साकारात्मक रिस्पांस की उम्मीद करती हूं।

फिल्मी कलाकार नही मांग सकेंगे मुंह मांगी रकम, सरकार ने बनाए अब नए नियम

आपको बता दें कि हरमनप्रीत के साथ यह पूरा वाक्या मोहाली स्थित नाइपर में आयोजित कार्यक्रम के दौरान हुआ। गौर हो कि यह मामला हरमनप्रीत कौर के ग्रेजुएशन की डिग्री को लेकर है जिसे उन्होंने चौधरी चरण सिंह यूनिवर्सिटी से लिया है। मामले में पंजाब पुलिस ने यूनिवर्सिटी के विजिलेंस विभाग से गोपनीय जांच कराई थी, जिसमें पता चला है कि हनीप्रीत के मार्कशीट का कोई रिकॉर्ड ही नहीं है।

जबकि हनीप्रीत के पिता का कहना है कि अगर उसकी डिग्री फर्जी है तो उसने इस डिग्री के आधार पर रेलवे में नौकरी कैसे कर ली?  बता दें कि हनीप्रीत फिलहाल पंजाब पुलिस में डीएसपी है और इससे पहले वह मुंबई रेलवे में सीनियर सहायक सुपरिंटेंडेंट थीं। पंजाब पुलिस में शामिल होने के लिए उन्होंने रेलवे से करार तोड़ दिया था, जिसके बाद इस मामले में भी काफी विवाद मचा था।

इसे भी देखिए!

loading...