Breaking News
  • गुजरात: भुज में आपसी रंजिश में घर में लगाई आग, मां-बेटी की झुलसकर मौत
  • प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में नीति आयोग गवर्निंग काउंसिल की चौथी बैठक
  • MP: शाजापुर में DJ की आवाज को लेकर दो समुदायों में झड़प, नियंत्रण में हालत
  • वेनेजुएला: कराकास में एक क्लब में आंसु गैस के स्टोरेज में विस्फोट, 8 नाबालिगों सहित 17 की मौत

धूल के गुबार से इमरजेंसी जैसे हालात: उड़ान सेवाएं रद्द

चंडीगढ़: दिल्ली-एनसीआर सहित देश के कई हिस्सों में धूल भरी आंधी आने के बाद आसमान में धूल ही धूल छायी हुई है। आसमान में धूल के गुबार के कारण लोगों को साँस लेने में तकलीफ हो रही है। वहीँ अब कई धूल के कारण कम हुई विजिबिलिटी से उड़ाने में प्रभावित प्रभावित हो रही हैं।

बतादें कि मीडिया में जारे जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि धूल भरी आंधी-तूफ़ान के कम विजिबिलिटी होने के कारण चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर विमानों की आवाजाही ठप हो गयी है। आसमान में धूल के कण ज्यादा होने के कारण विजिबिलिटी एकदम गिर गयी है। जिससे पास का देखना भी मुश्किल हो रहा है। राजस्थान से उठी धूल भरी आंधी ने उत्तर प्रदेश, एनसीआर, दिल्ली, पंजाब और हरियाणा में आपात जैसे स्थित बना दी है। धूल भरी आंधी से जहाँ विजिबिलिटी कम हुई है वहीँ लोगों का सांस लेना मुहाल हो रहा है। गुरुवार को दिल्ली एनसीआर में विजिबिल्टी इतनी कम थी कि दिन में सड़क पर लोगों को वाहनों कि लाइट जलानी पड़ रही थी।

पीएम मोदी के आवास के ऊपर उड़ता दिखाई दिया UFO, जारी हुआ अलर्ट...

इफ्तार पार्टी में राहुल को मिली 'टोपी', गायब रहे प्रमुख विपक्षी नेता

वहीँ ऐसी स्थित में बच्चों और बुजुर्गों को सबसे ज्यादा परेशानी हो रही है। दिल्ली, हरियाणा, पंजाब और राजस्थान को लोगों का जीना दुभर कर दिया है। हवा में घुली धूल के कारण लोगों को सांस लेने में भी तकलीफ हो रही है। तो वहीँ विमान सेवाएं भी प्रभावित हुई हैं। चंडीगढ़ में आसमान की धूल के कारण विजिबिलिटी न के बराबर रह गयी है। जिससे विमानों की लैंडिंग और टेकऑफ दोनों ही रुके हैं। वहीँ इसका सबसे बुरा असर दिल्ली एनसीआर में देखने को मिल रहा है। दिल्ली में सांस लेना भी मुश्किल है। बताया जा रहा है कि धूल के कारण दिल्ली-एनसीआर में कुछ दिनों के लिए निर्माण कार्य पर रोक लग सकती है। सेंट्रल पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड के सचिव ए सुधाकर ने कहा कि अगर हालात इसी तरह बने रहे तो एनसीआर में निर्माण कार्य पर रोक लगाई जाएगी।

यह भी देखें-

loading...