Breaking News
  • चार धाम यात्रा: छह महिने के बाद खुले केदारनाथ धाम के कपाट, कल खुलेंगे बद्रीनाथ के कपाट
  • वो (ममता) अब मेरे लिए पत्थरों और थप्पड़ों की बात करती हैं: मोदी
  • पश्चिम बंगाल के बांकुरा में पीएम मोदी की चुनावी रैली, ममता पर बोला हमला
  • लोकसभा चुनाव में 200 सीटों के अंदर सिमट जाएगी एनडीए: चंद्रबाबू नायडू
  • पश्चिम बंगाल में वोटिंग के दौरान हिंसा, दमदम में रो पड़े मतदान अधिकारी
  • गोडसे विवाद पर नीतीश, साध्वी प्रज्ञा का बयान बर्दाश्त से बाहर, पार्टी से निकाला जाए
  • लोकसभा चुनाव: सातवें व अंतिन चरण में 8 राज्यों की 59 सीटों पर वोटिंग

आधार कार्ड के कारण पति-पत्नी के बीच अबतक नहीं बन सका है संबंध!

छिंदवाड़ा: भारत सारकार द्वार लगभग हर क्षेत्र में आधार कार्ड अनिवार्य किए जाने के बाद समाज में आधार कार्ड से जुड़े कई तरह के मामले पहले भी सामने आ चुके हैं। लेकिन मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा का यह मामला अन्य सभी मामलों से बिलकूल अगल है। दरअसल यहां पत्नी और पत्नी के बीच शादी के करीब दो साल बाद भी वैवाहिक संबंध नहीं बन सका है।

demo

मामले में पत्नी का कहना है कि जब उसकी शादी हुई थी, तब चेहरा ढंका होने के कारण वह अपने पति का चेहरा नहीं देख सकी। लिहाज अब वह आधार कार्ड की मदद से अपने पति की पहचान करना चाहती है। जबकि पति यह कहते हुए आधार कार्ड दिखाने से मना कर रहा है, कि जब उसने उसके साथ विवाह किया है तो फिर आधार कार्ड क्यों दिखाए।

demo

इस बीच यह मामला पिछले दिनों परिवार परामर्श केंद्र पहुंचा, जहां प्रेम के साथ इस मामले को सुलझाने का प्रया किया है, लेकिन अब तक पति-पत्नी के बीच कोई फैसला नहीं हो सका है। पत्नी का आरोप है कि वह आधार कार्ड की मदद से इस बात का पता लगाना चाहती है कि उसकी शादी उसी के साथ हुई है या फिर किसी और से।

demo

आपको बता दें कि शादी के बाद पति-पत्नी साथ रह रहे हैं, लेकिन पत्नी का साफ कहना है कि जब तक वह आधार कार्ड नहीं दिखाएगा तब तक वह वैवाहिक संबंध स्वीकार नहीं करेगी।

loading...