Breaking News
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मध्य प्रदेश के एक दिवसीय यात्रा पर
  • अमेरिका का दक्षिण कोरिया के साथ संयुक्त सैन्याभ्यास रद्द
  • जम्मू-कश्मीर: सेना ने 22 आतंकियों की हिट लिस्ट तैयार की
  • JK: PDP के साथ गठबंधन टूटने के बाद श्यामा प्रसाद मुखर्जी की पुण्यतिथि पर BJP की रैली

भारत में इस नोट का भी होता था इस्तेमाल, इतनी कीमत में हुआ निलाम

NEW DELHI:- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 8 नवंबर 2016 को काले धन से लड़ने के लिए पुराने नोट यानि 500 और 1000 के रद्द कर दिए और उनके जगह हमको 2000 और 50 और 200 के नए नोट देखने को मिले जब नोट बंदी हुई तब हामरे अंदर काफी उत्सुक्ता थी की नए नोट आखिर कैसे होंगे।

पुलिस रिमांड पर बॉबी कटारिया, जान से मारने की हो रही है साजिश...

आज भी जब 50 पैसे या 25 पैसे या फिर 1 रुपय के नोट को देखते है तो हब बहुत खुश हो जाते ओए हमको बच्चपन के दिन याद आ जाते है हर भारतीय नागरिक अपने देश की पुराणी करंसी को देखना चाहता है शायद ही आपको पता ढाई रुपए का नोट भी कभी चला करता था आइये जानते इसके बारे में।

आपको बता दे इस नोट को ब्रिटिश गर्वमेंट ऑफ इंडिया ने 2 जनवरी, 1918 में जारी किया था उस दौरान इस नोट को 2 रुपए का आधा अन्‍ना का नोट कहा जाता था।

जानकारी के अनुसार एस नोट को हाथ से पेपर प्रिंट किया जाता था इस पर George V का चिन्‍ह होता था उस समय किसी गवर्नर के नही बल्कि ब्रिटेन के फाइनेंस सेक्रेटरी M M S Gubbay के हस्‍ताक्षर हुआ करते थे।

इस ढाई रुपए नोट की कीमत उस दौरान एक डॉलर के करीब थी आज शायद ही आपको यह नोट देखने को मिले लेकिन यह नोट भारतीय मुद्रा के इतिहास का महत्वपूर्ण हिस्सा रहा था ब्रिटिश शासन के समय एक रुपए में 16 अन्‍ना होते थे इसलिए इसमें दो रुपए के साथ आधा अन्‍ना जोड़ा गया था।

सुनिधि चौहान ने दिया बेटे को जन्म- 18 साल में ही हुई थी पहली शादी!

2015 में इस नोट की नीलामी की गई थी इसे नेशनल लेवल रेयर क्वाइन एग्जिबिशन में रखे गए इस नोट की कीमत ढाई लाख से ज्यादा रखी गई थी और कहा जाता है इसे देखने के लिए काफी लोग आए थे।

loading...