Breaking News
  • एशियाई खेलः बजरंग पुनिया जीता पहला गोल्ड मेडल, किया दिवंगत अजट जी को समर्पित
  • एशियाई खेलः 10 मी. एयर राइफल में दीपक कुमार ने जीता रजत पदक
  • कर्नाटक के कई तटीय जिले बाढ़ की चपेट में, बचाव एवं राहत अभियान जारी

मछुआरे के जाल में फंसी चमत्कारी मछली, 5.5 लाख में बिका

नई दिल्ली: मुंबई और उड़िसा समेता देश के कुछ अन्य राज्य भी है जहां की सिमाएं समुद्री तट से लगती है। ऐसे में राज्यों में मछुआरों की संख्या काफी अधीक होती है, यहां काफी संख्या में लोग अपना और अपने परिवार का पेट पालने के लए मछली पकड़ने का काम करते हैं। इस बीच मुंबई में अचानक एक मछुआरे के साथ ऐसा हुआ कि वह देखते ही देखते लखपती बन गया।

इससे पहले आपको बता दें कि यह वाक्या मछुआरा महेश मेहर और उनके भाई भरत के साथ हुआ है। दोनों भाई अन्य दिनों की तरह इस दिन भी अपनी एक छोटी सी नाव के साथ मछली पकड़े के लिए पानी में जाल लेकर उतर गए। कुछ समय बाद अचानक से इनका जाल काफी भारी हो गाया, तब ये इस बात को समझ गए थे कि जाल में मछली फंस गई है।

देखिए, कांग्रेस नेता की दो बेटियां हैं बॉलीवुड की HOT एक्ट्रेस

लेकिन शायद अभी इन मछुआरा भाईयों को इस बात की जानकारी नहीं हुई थी, कि इनके जाल में जो मछली फंसी है वह इनकी किस्मत बदलने वाली है। दरअसल, इन भाईयों के जाल में ‘घोल मछली’ फंसी, जोकि दुर्लभ प्रजाति की मछलियों में से एक हैं और बाजर में इसकी मांग काफी तेज है, इसलिए ये मछली काफी कीमती भी होती है।

आपको बता दें कि जाल में घोल मछली फंसे की खबर देखते ही देखते आग की तरह फैल गई और अभी मछली लेकर ये मछुआरा भाई किनारे पर भी नहीं पहुंचे थे कि इनकी मछली को खरीदने वाले व्यापारियों की लंबी कतार लगी थी। इसके बाद इस मछली की बोली लगी और इसे एक व्यापारी नें 5.5 लाख रुपये में खरीदा।

सभी यूजर्स के लिए फ्री डेटा और टॉकटाइम!

बताया जाता है कि घोल मछली काफी स्वादिष्ट होता है साथ ही इसका प्रयोग कई प्रकार के दवाईयों को बनाने में किया जाता है। घोल मछली का एक-एक अंग सोने की तरह बिकता है, इसके कुछ अंग कॉस्मेटिक उत्पाद के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं तो कुछ कीमती वाइन की सफाइ के लिए इस्तेमाल किए जाते हैं। इसके अलाव इसकी चमड़ी का इस्तेमाल भी किया जाता है। कुल मिलाकर इस मछली का कोई भी अंग बेकार नहीं होता!

यहां देखिए!

loading...