Breaking News
  • भागलपुर: सरकारी खाते से राशि की अवैध निकासी मामले की CBI जांच, सीएम ने दिया निर्देश
  • आयकर विभाग ने लालू की बेटी मीसा भारती और उनके पति को पूछताछ के लिए बुलाया
  • उत्तर प्रदेश: 7,500 किसानों को सौंपा गया कर्ज माफी प्रमाण पत्र
  • स्पेन: बार्सिलोना आतंकी हमले में 13 की मौत, 2 संदिग्ध गिरफ्तार
  • तमिलनाडु: पूर्व मुख्यमंत्री स्वर्गीय जे. जयललिता की मौत की जांच के आदेश
  • जम्मू-कश्मीर: आतंकी फंडिंग के मामले में व्यापारी ज़हूर वताली गिरफ्तार

यहां गे-लेस्बियन गंभीर बीमारी- इलाज के नाम पर होता है गैंग रेप और...

मैजूदा समय में दुनिया हर दिन विकास के नए आयाम को छू रहा है, इसमें कोई दो मत नहीं है, बता दें कि सेक्स को लेकर लोगों की आम धारनाएं बद रही है, ऐसे में ‘गे’ ‘लेस्बियन’ लोगों ने भी अपने हक की लड़ाई लड़ी और कई देशों में इनके प्यार को कानूनी मान्यता भी दी गई, लेकिन अब भी कुछ ऐसी जगहें हैं जहां ‘गे’ ‘लेस्बियन’ लोगों को लेकर गलत धारनाएं होती है।

दरअसल कुछ ऐसे देश हैं जहां ‘गे’ ‘लेस्बियन’ या होमोसेक्सुअलिटी को अपराध माना जाता है, तो कई इसे भयंकर बीमारी का नाम दिया जाता है, और फिर इलाज के नाम पर बर्बरता की इजाजत होती है। ऐसा ही एक जगह है ‘साउथ अमेरिका का इक्वाडोर’ जहां इसे बीमारी माना जाता है।

बता दें कि ऐसे लोगों के इलाज के लिए किसी डॉक्टर के पास लिया जाता है, बल्कि उसे टॉर्चर हाउस ले जाय जाता है, जहां इस सो-कॉल्ड बीमारी का इलाज किया जाता है। इलाज का तरीका सिर्फ जानकर ही आपको होश उड़ सकते हैं, तो जरा सोचिए जिनके साथ ऐसा होता होगा उन्हें कैसा लगता होगा?

इलाज के इन तरीकों का जिक्र कई मीडिया रिपोर्ट में किया जाता है। रिपोर्ट के अनुसार यहां गे-लेस्बियन्स को पहले टॉर्चर हाउस ले जाय जाता है और फिर उनके साथ इमोशनली और फिजिकली टॉर्चर किया जाता है। इस दौरान उन्हें जबरदस्ती खाना भी खिलाया जाता है।

इस इलाज में चौंकाने वाली बात तो यह है कि सेम सेक्स के प्रति आकर्षण जगाने के लिए इनके साथ सामूहिक रेप किया जाता है। इलाज एक नाम पर मानवता के सभी दायरे को तोड़ कर इन लोगों के साथ कई लोग रेप करते हैं।

loading...

Subscribe to our Channel