Breaking News
  • सौदे की सीबीआई जांच की मांग वाली याचिकाएं सुप्रीम कोर्ट में खारिज
  • राफेल की गुणवत्ता पर सवाल नहीं, कीमत जानना जरूरी नहीं : सीजेआई
  • राज्यसभा की कार्यवाही दिनभर के लिए स्थगित
  • पर्थ टेस्ट: ऑस्ट्रेलिया ने जीता टॉस, पहले बल्लेबाजी का फैसला

भयावह हुई त्रिपुरा की बाढ़, 50 हजार लोग बेघर

अगरतला: त्रिपुरा में भारी बारिश के बाद बाढ़ ने विकराल रूप रख लिया है। यहाँ रविवार से जारी भीषण बारिश के बाद अब राज्य में बाढ़ से कई इलाके जलमग्न हो चुके हैं। बारिश के बाद आई बाढ़ में 50 हजार लोग प्रभावित बताये जा रहे हैं।

बात्दें कि पूर्वोत्तर के राज्यों में शुरू हुई दक्षिण-पश्चिम मानसूनी बारिश ने अब भयावह स्थित बना दी है। रविवार से जारी तेज बारिश के कारण राज्य के कई इलाकों में बाढ़ आ गयी है। इसी बीच गुरुवार को राज्य के मुख्यमंत्री बिप्लव कुमार देब ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का दौरा कर हालात का जायजा लिया। जिसके बाद राज्य सरकार ने बाढ़ से लोगों को निकलाने के लिए सेना की मदद मांगी गयी है। राज्य में तीसरे दिन भी लगातार बारिश जारी रही जिससे बाढ़ व भूस्खलन की घटनाएँ बढ़ गयीं है।

पंजाब: इस 'आतंक' के कारण चंडीगढ़ में रोकी गई हवाई सेवाएं?

राज्य में भारी बारिश के बाद आई बाढ़ में अभी तक पचार हजार से ज्यादा लोगों को राहत शिविरों में भेजा गया है। इसी दौरान राज्य के सीएम देब ने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से टेलीफोन पर वार्ता कर बाढ़ के हालात की जानकारी साझा कर बाढ़ से निपटने के लिए केंद्र सरकार से मदद की मांग की है। मुख्यमंत्री देब ने गृहमंत्री से त्रिपुरा में राष्ट्रीय आपदा मोचन बल कर्मियों की संख्या बढ़ाने को कहा है कि जिससे लोगों को जल्दी से रेस्क्यू किया जा सके।

मंदसौर गोलीकांड पर आई रिपोर्ट: हकीकत जान खिसक जाएगी पैरों तले की जमीन

वहीँ राज्य में बाढ़ की स्थित को देखते सेना से भी मदद की अपील की गयी है। बारिश के बाद आई बाढ़ में अभी तक चार लोगों के मारे जाने की खबर है। त्रिपुरा के साथ साथ मिजोरम में भी बाढ़ से हालत गंभीर बने हुए हैं। हालांकि यहाँ शुक्रवार को बारिश से राहत मिली है। लेकिन पिछली बारिश के सडकें कट गयीं हैं। जिससे कई इलाकों का सम्पर्क बाधित हो गया है।

यह भी देखें-

loading...