Breaking News
  • कोलकाता में ममता की महारैली में जुटा मोदी विरोधी मोर्चा, केजरीवाल, अखिलेश समेत 20 दिग्गज नेता
  • योगी सरकार के आने के बाद से संगठित अपराधों पर रोक लगी है: राम नाइक
  • अगर मुझे गाजीपुर से टिकट न मिला तो नहीं लड़ूंगा चुनाव- मनोज सिन्हा
  • अयोध्या में राम मंदिर नहीं तो हिंदुओं का वोट नहीं- प्रवीण तोगड़िया
  • पेट्रोल 17 और डीजल 19 पैसे हुआ महंगा

देश को मिला सबसे लंबा डबल डेकर रेल-रोड ब्रिज, खुली जीप में सैर करते दिखे पीएम मोदी

नई दिल्ली: देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को असम के डिब्रूगढ़ शहर के पास बोगीबील में ब्रह्मपुत्र नदी पर बने डबल डेकर रेल और रोड ब्रिज का उद्घाटन कर दिया है। करीब 4.94 किमी लंबा यह पुल भारता का सबसे लंबा रेल-रोड पुल है जिसकी आधारशिला पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा ने 22 जनवरी, 1997 रखी थी।

हालांकि पुल का निर्माण कार्य 21 अप्रैल, 2002 को तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार के समय में शुरू हुआ लेकिन इसके बाद भी कई तरह के कारणों के चलते पुल निर्माण में सालों लंबा वक्त लगा और जिसके बाद 25 दिसंबर 2018 को एनडीए सरकार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पुल का उद्घाटन किया है।

भारत के लिए इतना जरूरी क्यों है ब्रह्मपुत्र नदी पर बना बोगीबील पुल

पुल का उद्घाटन करने के दौरान पीएम मोदी खुली जीप में सवार होकर पुल का दीदार भी किया। ब्रह्मपुत्र नदी पर बने इस पुल का निर्माण कराये जाने की मांग सबसे पहले साल 1965 में उठी थी। यह पुल असम समझौते का अहम हिस्सा रहा है जिसकी सिफारिश 1997-98 में की गई थी।

भारत रत्न वाजपेयी की याद में 100 रुपये का नया सिक्का लॉन्च, जानिए क्या है सबसे खास

करीब 5,900 करोड़ रुपये की (अनुमानित) लागत से बने इस “बोगीबिल पुल” के नीचे की दो रेलवे ट्रैक बिछाई गई हैं और इसके उसके ऊपर तीन लेन की सड़क बनाई गई है, जो सेना का भारी-भरकम टैंक की भार भी झेल सकता है, इस रास्ते से टैंक आसानी से गुजर सकता है। वहीं अपात स्थिती में लड़ाकू विमानों की लैंडिग भी कराई जा सकती है।

आखिर 25 दिसंबर को ही क्यों मनाते हैं क्रिसमस और कौन हैं सांता क्लॉज

loading...