Breaking News
  • निर्यातकों के लिए बड़ी सौगात, विदेशी मुद्रा में कर्ज़ उठाने की मिलेगी सुविधा
  • भारत और स्लोवेनिया के बीच निवेश, खेल, संस्कृति

कहां सोई है सरकार, भारत की सीमा के अंदर घुस रहा है चीन!

सिलीगुड़ी: भारत और चाइना के बीच डोकलाम का विवाद भले ही खत्म हो गया हो लेकिन चीन अभी भी अपनी हरकतों से बाज नही आ रहा है। चीन लागातर भारतीय सीमा पर नजर रखने के साथ ही घुसपैठ कर रहा है। जोकि भारत के लिए बेहद चिंता का विषय है। चीन का भारत के नॉर्थ-ईस्ट के राज्यों पर हमेशा से बुरी नजर रही है। ऐसे में भारत को समय रहते चीन की हरकतों पर नजर रखनी होगी।

बतादें कि बुधवार देश के नौसेना प्रमुख सुनील लांबा ने चीन की तरफ से दिन प्रतिदिन बढ़ते खतरे को लेकर आगाह किया है। मीडिया में जारी ख़बरों के अनुसार बुधवार को दिल्ली में सुनील लांबा ने भारत चीन के बीच रिश्तों और चीन की हरकतों पर बड़ा देकर भारत को चिंतित कर दिया है। लांबा ने कहा है कि डोकलाम विवाद का भले ही खत्म या शांत हो गया हो लेकिन चीन अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। चीन का लगातर इलाके में दखल और घुसपैठ करने की कोशिश में लगा है।

सीएम योगी ने खोला नया दरवाजा- यूपी का भाग्य बदल देगा इन्वेसटर्स समिट ?

लांबा ने कहा कि ‘लाइन ऑफ एक्चुअल कंट्रोल (एलएसी) पर पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की तरफ से बार-बार घुसपैठ और क्षेत्र में सैन्य क्षमता को बढ़ाया जाना चिंता का विषय है।’ चीन हमेशा से भारत के नॉर्थ-ईस्ट का राज्यों पर बुरी नजर रखये हुए है। ऐसे में चीनी घुसपैठ से नॉर्थ ईस्ट को जोड़ने वाले सिलीगुड़ी कॉरीडोर पर संकट बन आया है। सिलीगुड़ी कॉरीडोर को चिकेन नेक भी कहा जाता है। यही देश को नॉर्थ ईस्ट के राज्यों से जोड़ता है।

चीन से सबसे ज्यादा इसी को खतरा बना रहता है। अभी कुछ ही समय पूर्व चीन ने अपने पश्चिमी थियेटर कमांड के एयर डिफेंस सिस्टम को मजबूत करने के लिए कई बड़े कदम उठाए हैं। जिससे वह भारत पर नजर रख सके। इसके साथ ही चीन इलाके में धीरे धीरे अपनी सेना को बढ़ा रहा है। सैन्य गतिविधि और उच्च स्तर पर हो रहे सड़क निर्माण कार्य से भारत के लिए किसी बड़े खतरे से कम नहीं है। क्योंकि चीन हमेशा से पीठ में छुरा घोपने वाला काम करता आया है।

यह भी देखें-

     

 

loading...