Breaking News
  • दिल्लीः कोहरे के चलते लगभग 100 ट्रेन देरी से चल रही है, कई ट्रेनों के समय में बदलाव
  • मुंबई: भारत और इंग्लैंड के बीच चौथा टेस्ट मैच वानखेड़े स्टेडियम में, भारत 2-0 से आगे
  • पाकिस्तान माना कि कथित भारतीय जासूस कुलभूषण जाधव को लेकर पास पर्याप्त सबूत नहीं

एनडीटीवी पर बैन के समर्थन में उतरे Zee ग्रुप के मालिक सुभाष चंद्रा, कहा आजीवन बैन होना चाहिए!

नई दिल्ली: पठानकोट आतंकी हमले के दौरान प्रसारण नियमों का उलंघन करते हुए प्रसारण करने के आरोप में सरकार ने एनडीटीवी इंडिया पर एक दिन के लिए बैन लगाने का फरमान सुनाया है। लेकिन सरकार के इस फैसले पर मिली-जुली राय सामने आ रही है।

कुछ लोग सरकार के इस फैसल के समर्थन में अपनी आवाज बुलंद कर रहे है, तो कुछ लोग इसे आपातकाल के दिनों से तुलना कर रहे है। मामले में Zee ग्रुप के मालिक और राज्यसभा सांसद सुभाष चंद्रा के बायन से एक अगल बवाल खड़ा हो गया है।

मामले पर सरकार के फैसलों को सही ठहराते हुए चंद्रा ने ट्वीट कर कहा कि इस घटना के लिए एनडीटीवी इंडिया पर एक दिन का बैन काफी नहीं है। देश की सुरक्षा से खिलवाड़ करने के लिए उन पर आजीवन प्रतिबन्ध लगा देना  चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि यदी इस मामले में चैनल कोर्ट में जाता है तो वहां से भी उसे लताड़ ही मिलेगी।

चंद्रा ने आगे कहा है कि यूपीए सरकार रे दौरान जब Zee पर प्रतिबन्ध की बात चली थी तब एनडीटीवी के साथ-साथ अन्य तथाकथित बुद्धिजीवीयों ने मौन धारण कर लिया था, यहां तक की एडिटर्स गिल्ड ने भी चुप्पी साध रखी थी, लेकिन अज गलत को गलत कहने पर कुछ लोग आपातकाल कह रहे है।

आपको बता दें कि सुभाष चंद्रा केंद्र की सत्ताधारी पार्टी भाजपा के समर्थन से राज्यसभा से सांसद चुने गए है।