Breaking News
  • नये ट्रैफिक नियमों में बढ़े हुए जुर्माने के खिलाफ हड़ताल पर ट्रांसपोर्टर्स
  • यूनाइटेड फ्रंट ऑफ ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन ने किया है हड़ताल का आहवाहन
  • महाराष्ट्र दौरे पर पीएम मोदी, नासिक से करेंगे चुनाव प्रचार अभियान का आगाज
  • साउथ अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टी20 मैच में 7 विकेट से जीता भारत

पहली बार भारत दौरे पर इस देश के राष्ट्रपति, किये छह समझौते

नई दिल्ली : भारत के राष्ट्रपति के बुलावे पर अफ्रीकी देश जाम्बिया के राष्ट्रपति पहली बार भारत दौरे पर आए हैं। मंगलवार को अपने तीन दिवसीय दौरे पर भारत पहुंचे मेहमान राष्ट्रपति का राष्ट्रपति कोविंद और प्रधानमंत्री मोदी ने जोरदार स्वागत किया। भारत की पावन धरती पर कदम रखने के साथ ही राष्ट्रपति एडगर चाग्वा लुंगू ने राजघाट पहुंच कर राष्ट्रपति की समाधि पर श्रद्धांजलि अर्पित की। वहीं उन्हें राष्ट्रपति भवन में गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया।

स्वागत और सम्मान समारोह के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मेहमान राष्ट्रपति से हैदराबाद हाउस में मुलाकात की। जहां दोनों नेताओं के बीच द्विपक्षीय वार्ता हुई। इस दौरान दोनों देशों के बीच रक्षा समेत विभिन्न क्षेत्रों में संबंध मजबूत करने को लेकर चर्चा हुई और दोनों नेताओं की मौजूदगी में भारत और जांबिया के बीच छह समझौता ज्ञापनों का आदान-प्रदान हुआ।

मेहमान राष्ट्रपति से मुलाकात और वार्ता के बाद पीएम मोदी ने कहा कि जांबिया खनिज संपदाओं से भरा हुआ देश है। अन्य खनिजों के अलावा भारत जांबिया से बड़ी मात्रा में तांबा लेता है। दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग को लेकर एक महत्वपूर्ण MOU पर हस्ताक्षर हुए हैं। यह MOU हमारे रक्षा प्रतिष्ठान के बीच संस्थागत आदान-प्रदान को बढ़ाएगा। यह हमारे वर्तमान रक्षा सहयोग को और मजबूत करेगा।

आपको बता दें कि मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में ऐसा पहली बार है, जब किसी अफ्रीकी देश के प्रमुख की पीएम मोदी से मुलाकात हुई है। पीएम मोदी से मुलाकात के बाद राष्ट्रपति एडगर ने भारत का गौरवगान करते हुए कहा कि, “जांबिया के लोग भारत की ओर से मिलने वाले समर्थन के लिए आभारी हैं। मेरी यहां की यात्रा फल देने लगी है, हमने रक्षा, शिक्षा, चिकित्सा, कला और संस्कृति के साथ-साथ हमारे 2 राजनयिक प्रशिक्षण संस्थानों में समझौतों पर हस्ताक्षर हुए हैं।“

loading...