Breaking News
  • बैंक खातों को आधार से जोड़ना अनिवार्य: आरबीआई
  • कट्टरता के खिलाफ भारत मजबूत कार्रवाई कर रहा है: सेना प्रमुख बिपिन रावत
  • कुपवाड़ा में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़
  • विदेश मंत्री सुषमा स्वराज आज से बांग्लादेश के दो दिवसीय दौरे पर होंगी रवाना

लोगों को आतंकी बनाने का काम करता था जाकिर, ISIS में भर्ती होने के लिए देता था स्कॉलरशिप...!

zakir naik newsNEW DELHI:- दुनिया का सबसे खतरनाक आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट के संदिग्ध आतंकी को जाकिर नाईक के NGO से स्कॉलरशिप दी गई थी। आतंकी संगठन में भर्ती होने के लिए संदिग्ध को जाकिर नाइक की संस्था ने 80 हजार की स्कॉलरशिप दी थी। यह बात कल यानी मंगलवार को NIA ने बताई। अबू अनस को 2015 में यह पैसा सीरिया जाने के और आंतंकी संगठन में भर्ती होने के लिए स्कॉलरशिप के बहाने दिया गया।

बता दें अबू अनस को आतंकी साजिश रचने को लेकर गिरफ्तार किया गया है। अनस पर आरोप है कि वह आईएस की तरफ से लड़ने के लिए सीरिया जाना चाह रहा था। वह राजस्थान के टोंक जिले का रहने वाला है और उसे 2016 में गिरफ्तार किया गया था।

NIA ने नाईक की संस्था इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन के खिलाफ आतंकवाद विरोधी कानून यूएपीए और आईपीसी की धारा 153ए के तहत मामला दर्ज किया है।

जाकिर नाइक की संस्था पर NIA की टीमें छापे मार रही हैं। छापेमारी में NIA को कई दस्तावेज मिले हैं। एजेंसी संस्था लेन-देन और फंडिंग की गहराई से जांच कर रही है। इसी जांच से इस बात का पता चला है। बता दें कि जाकिर नाइक की संस्था को केंद्र सरकार ने पहले ही प्रतिबंधित कर दिया है।

NIA अबू अनस के IS की तरफ झुकाव की जांच कर रही है। वह हैदराबाद की एक कंपनी में इंजीनियर था और बाद में नौकरी छोड़ दी थी। वह अभी दिल्ली की तिहाड़ जेल में बंद है। जाकिर नाइक पर यह आरोप है कि वे भड़काऊ भांषण देते हैं और दो समुदायों के बीच नफरत फैलाते हैं। NIA की टीमें जाकिर नाइक के आडियो-विडियो सुन रही हैं और उससे कई बातें पता चल रही हैं।  

loading...