Breaking News
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भुवनेश्वर दौरे पर
  • चक्रवाती तूफान DAYE ने ओडिशा के गोपालपुर तट पर दी दस्तक
  • एशिया कप: पाकिस्तान को 9 विकेट सो धोकर फाइनल में पहुंचा भारत

उपचुनाव: UP में BJP की बड़ी जीत के बाद भयंकर हार- योगी को लगा बड़ा झटका!

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर और फूलपुर लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव में केंद्र और राज्य की सत्ताधारी बीजेपी को बड़ा झटका लगा। साल 2014 के लोकसभा चुनाव में इन दोनों सीटों पर बड़े अंतर से जीतने वाली बीजेपी को उपचुनाव में बड़ी हार का सामना करना पड़ा। साल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी को मिली इस हार ने पूरी पार्टी को हिला दिया है।

हार से आहात हुए प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी अपनी हार मानते हुए समीक्षा करने की बात कर रहे हैं। वहीं हार के बाद यूपी बीजेपी अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडे ने मीडिया से कहा कि, “पार्टी के अंदर की अव्यवस्था इस नतीजे का कराण है”। उन्होंने कहा कि, “कहीं ना कहीं कोई कमी रह गई, हम इसकी समीक्षा करेंगे और आगे की रणनीति बनाएंगे”।

CM बनने के चक्कर में योगी ने खो दिया अपना गोरखपुर किला- अखिलेश ने मारी बाजी तो BJP को चौतरफा झटका...

वहीं हार के बाद सीएम योगी ने कहा कि, “कहां कमी रह गई इसकी समीक्षा करेंगे, जनता का ये फैसला है, लोकतंत्र में जनता जनार्दन होती है, हम फैसले को स्वीकार करते हैं और जीते हुए प्रत्याशियों को बधाई देते हैं”, योगी ने कहा कि, “उम्मीद है कि वो जनता के फैसले के मुताबिक बेहतर काम करेंगे”।

फूलपुर परिणाम: सपा ने इनको को दिया जीत का श्रेय, गोरखपुर में भी इतिहास रचने की बारी

इसके साथ ही सीएम ने सपा-बसपा गठबंधन को लेकर कहा कि, “अंतिम समय में सपा और बसपा साथ आए, जब प्रत्याशियों का एलान हुआ था तब सभी दल अलग अलग थे, और इस बीच राज्यसभा चुनाव को लेकर दोनों पार्टियों ने बेमेल गठबंधन किया”। वहीं अपनी पार्टी की हार पर योगी ने कहा कि, “बीजेपी का हारना हमारे लिए समीक्षा का विषय है, भविष्य की बेहतर योजना बनाने के लिए काम करेंगे”।

कॉमेडी स्टार कपिल शर्मा की होश उड़ा देगी यह रिपोर्ट?

आपका बता दें कि वाकई यह हार बीजेपी के लिए 440V के झटके से कम नहीं है। क्योंकि 2014 लोकसभा चुवान में गोरखपुर से योगी आदित्यनाथ ने भारी मतों से जीता था, जबकि मोदी लहर का फायदा उठाते हुए फूलपुर लोकसभा सीट से केशव प्रसाद मौर्य ने चुनाव जीता था, लेकिन इसके बाद उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव में बीजेपी को मिली बड़ी जीत के बाद योगी और मैर्य ने अपनी सीट छोड़ दी, जिस पर फिर से चुनाव हुआ और अबकी बार हाथी और साइकिल के बोझ तले कमल किचड़ में ही समावेस हो गया।

loading...