Breaking News
  • काबूल: PD6 इलाके में डिप्टी सीईओ के घर के पास कार धमाका, 10 लोगों के मारे जाने की खबर
  • सावन का तीसरा सोमवार आज, शिवालयों में भक्तों की लंबी कतार
  • आज शाम 7.30 बजे राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का संबंधोन
  • इसरो के पूर्व प्रमुख प्रोफेसर यूआर राव का निधन- पीएम मोदी ने जताया दुख
  • महिला विश्व कप 2017: फाइनल मुकाबले में इंग्लैंड ने भारतीय टीम को 9 रनों से हराया

अब चीन की खैर नहीं, आ रहे हैं एक साथ भारत अमेरिका और जापान!


नई दिल्ली: सिक्किम बॉर्डर पर बढ़ते चीनी दखल और दादागिरी का जवाब भारत, अमेरिका और जापान मिलकर देने वाले हैं। यहाँ मालाबार ने तीनों देशों की सेनायें सैन्य अभ्यास कर चीन को सीधा सीधा सन्देश देने वालीं हैं कि हम साथ हैं। चीन का भारत के साथ साथ जापान से भी समुद्री सीमा विवाद चला आ रहा है।

भारत चीन के बीच बढ़ते गतिरोध के बीच 10 जुलाई से बंगाल की खाड़ी में भारत,अमेरिका और जापान की सेनायें युद्धाभ्यास करने वाली हैं। वहीँ इससे पूर्व विवादित दक्षिण चीन सागर में चीन की बढ़ती सैन्य मौजूदगी बढ़ा रहा है। इस लिहाजा से देखे तो 10जुलाई को होने वाला मालाबार नौसेना का अभ्यास चीन को करारा जवाब होगा।

मोदी ने दी श्रद्धांजलि- भारत के इन जवानों ने हाइफा के लिए अपनी प्राणों की आहुति दे दी​

वैसे यह अभ्यास सालाना होता है, इसमें बड़ी संख्या में तीनों देशों के विमान, नौसेना की परमाणु पनडुब्बियां और नौसैन्य पोत हिस्सा लेते रहे हैं, लेकिन इसबार अभ्यास में अमेरिका का निमित्ज, भारत का आईएनएस विक्रमादित्य और जापान का इजूमो एयरक्राफ्ट जैसे खतरनाक जंगी बेड़े हिस्सा ले रहे हैं।

नमक के ये उपाय आपको दे सकती है मोटी आमदनी...

राहुल लाएंगे ‘नीतीश’ को फिर से अपने पाले में!

ऐसा पहलीबार हो रहा है। वहीँ यह नौसना का अभ्यास ऐसे समय में किया जा रहा है जब सिक्किम क्षेत्र में भारत और चीन की सेनाओं के बीच लगातार तनाव बना हुआ है। वहीँ दक्षिण चीन सागर में चीन अपनी नौसेना की मौजूदगी को बढ़ा रहा है। जिससे दोनों देशों के बीच चिंताएं बढ़ रही हैं। सिक्किम बॉर्डर पर भारत चाइना दोनों ही पीछे हटने को तैयार नहीं हैं। वहीँ इस पर भारत ने साफ़ कह दिया है की उसे पीछे हटना गंवारा नहीं है। 

loading...