Breaking News
  • नहाय खाय के साथ प्रकृति और सूर्य की उपासना का पर्व छठ पूजा शुरू
  • लखनऊ-आगरा एक्सप्रेस-वे पर आज वायु सेना का पहला अभ्यास
  • चीन की कम्युनिस्ट पार्टी ने राष्ट्रपति XiJinping के अगले पांच सालों के कार्यकाल को सहमति दी
  • आज पूरा विश्व मना रहा है United Nations Day, प्रथम विश्वयुद्ध के बाद 1929 में हुआ था गठन

मोदी कैबिनेट की बैठक में लिए गए ये बड़े फैसले- सब को होगा...

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुए केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक  में कई अहम फैसले लेते हुए मत्वपूर्ण प्रस्तावों को मंजूरी दी गई है। बैठक में पूर्वोत्तर क्षेत्र के विकास के साथ-साथ उत्तर प्रदेश के लिए भी अहम फैसले लिए गए है। बैठक के दौरान राष्ट्रीय राजमार्गों के चौड़ीकरण से संबंधित दो प्रस्तावों को मंजूरी दी गई है। तो वहीं यूपी में अंतर्राष्ट्रीय चावल अनुसंधान संस्थान खोलने के फैसले पर भी केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मुहर लगा दी।

इसके अलावा अर्धसैनिक बलों में डॉक्टरों की सेवा निवृति की उम्र सीमा 60 से बढ़ाकर 65 साल करने के फैसले को भी मंजूर कर लिया गया है।पूर्वोत्तर क्षेत्र को सौगात देते हुए सरकार ने मणिपुर में इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत करने का फैसला लिया है। राजधानी इम्फाल से मोरे तक के राष्ट्रीय राजमार्ग संख्य 39 को चौड़ीकरण करने का फैसला लिय गया है। इस प्रोजेक्ट में करीब 1630 करोड़ रुपए की लागत आएगी।

इस प्रोजेक्ट से हजारों लोगों को रोजगार प्राप्त होगा, इसके अलावा राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 52 पर सोलापुर से बीजापुर के बीच चार लेन बनाने का फैसला किया गया है। इस योजना में एक हजार आठ सौ नवासी करोड़ रुपए की लागत आएगी।

मोदी कैबिनेट ने भाजपा शासित राज्य यूपी के वाराणसी में अंतर्राष्ट्रीय चावल अनुसंधान संस्थान स्थापित करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। बता दें कि वाराणसी पीएम मोदी का संसदीय क्षेत्र है। गौर हो कि पूर्वोत्तर क्षेत्र के लिए यह ऐसा संस्थान होगा, जहां चावल उत्पादन और उत्पादकता को बढ़ाने के लिए रिसर्च को बढ़ावा दिया जाएगा और किसानों को वैल्यू चेन से जोड़ने के उपाय भी सुझाए जाएंगे।

आता दें कि मंत्रिमंडल ने अहम फैसला लेते हुए फिलिस्तीन, बांग्लादेश और जर्मनी के साथ साइबर सुरक्षा, विज्ञान एवं तकनीक, स्वास्थ्य और निवेश सुरक्षा जैसे अन्य कई मसलों से संबंधित समझौतों को भी मंजूदी दे दी है।

loading...