Breaking News
  • UPElection: 5वें चरण के लिए चुनाव-प्रचार का आज आखिरी दिन
  • जम्मू कश्मीर: शादियों में फिजूलखर्ची पर सरकार ने पेश किया लाई बिल- मेहमानों की संख्या के साथ कई नियम
  • MCD चुनाव के लिए आप पार्टी ने किया 109 उम्मीदवारों का ऐलान
  • इंफाल: पीएम मोदी की चुनावी सभा- मणिपुर में कांग्रेस रहने को अधिकारी नहीं
  • पूर्वी भारत के विकास के बिना भारत का विकास अधूरा- मोदी
  • कांग्रेस जो काम 15 साल में नहीं कर पाई, हम 15 महीनों में करेंग- मोदी
  • पुणे टेस्ट: 333 रन से हारी टीम इंडिया- दूसरी पारी में भी 107 पर ऑलआउट

1 फरवरी को ही पेश होगा ‘बजट’, इस बार मोदी सरकार ने बजट में भी किए है कई बदलाव!


नई दिल्ली: संसद-शीतकालीन सत्र की शुरूआत आज बुधवार से हो चुका है। पहले दिन आज लोकसभा में पूर्व सदस्यों को श्रद्धांजलि देने के साथ ही सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी गई। जबकि राज्यसभा में मोदी सरकार के नोटबंदी के मसले पर चर्चा के नाम पर जम कर हंगामा हुआ। इस बीच निष्कर्ष यह निकला कि विपक्ष सदन में नोटबंदी पर पीएम से बयान देने की मांग पर अड़ी है।

तो इधर केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने बताया कि सरकार ने लगभग यह तय कर लिया है कि इस बार एक फरवरी को ही बजट पेश किया जाएगा। हालांकि इस बात की औपचारिक पुष्टि सीसीईए की बैठक में किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि जीएसटी को एक अप्रैल, 2017 से लागू करने की दिशा में बजट को पहले पेश करना बेहद जरूर है। आपको बता दें कि इस बार का बजट भी अन्य सालों के मुकाबले कुछ खास बजट रहने वाला है।

इस बार बजट के प्रावधानों में सरकार ने कुछ बदलाव किए है। जिसमें रेल बजट को आम बजट में विलय कर दिया गया है और योजनागत व्यय और गैरयोजनागत व्यय को बजट से हटा कर, इसके स्थान पर राजस्व और व्यय का जिक्र किया जाएगा।

खबरें ऐसी भी है कि, क्योंकि इस बार बजट और सालों के मुकाबले पहले पेश हो रहा है, तो इससे संबंधित सभी बैठके अपने समय से पहले ही आयोजित की जाएंगी।