Breaking News
  • 18वां कारगिल विजय दिवस आज- शहीद सैनिकों को नमन कर रहा है देश
  • फसल बीमा से जुडी कम्पनियाँ नुकसान का फ़ौरन आंकलन करें- मोदी
  • पाकिस्तानी आतंकवादी मोहम्मद कोया को कर्नाटक कोर्ट से 7 साल की सजा
  • भारत-श्रीलंका के बीच पहला टेस्ट मैच गाले में आज रंगना हेराथ संभालेंगे कप्तानी, चांदीमल बाहर
  • बाढ़ प्रभावित गुजरात में हवाई सर्वेक्षण के बाद पीएम ने किया 500 करोड़ का ऐलान
  • राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल का चीन दौरा- BRICS देशों की बैठक में लेंगे हिस्सा

सुषमा के निशाने पर पाकिस्तान सरकार, सरताज अजीज को सुनाई खरी खोटी...


NEW DELHI:- पाकिस्तान को एक बार फिर अपनी करतूतों के लिए खरी खोटी सुनना पड़ा है। इस बार सुषमा स्वराज के निशाने पर रहे पाकिस्तान के निदेशी मामलों के सलाहकार सरताज अजीज। सुषमा ने सोमवार को एक के बाद एक 9 ट्वीट करते हुए दुनिया के सामने पाकिस्तान का असली चेहरा सबके सामने रखा।

सुषमा ने सोमवार सुबह 9 ट्वीट किए और लिखा कि भारत में इलाज के लिए वीजा का इंतजार कर रहे पाकिस्तानी नागरिकों के लिए मैं अपना दुख व्यक्त करती हूं, उम्मीद करती हूं कि सरताज अजीज को भी अपने देशवासियों के लिए कुछ दर्द हो रहा होगा. सुषमा ने लिखा कि हमें पाकिस्तानी नागरिकों के भारत आने से कोई दिक्कत नहीं है, बस हमें मेडिकल वीजा के लिए एक सरताज अजीज की चिट्ठी चाहिए।

सुषमा ने लिखा कि मुझे समझ नहीं आता कि वे अपने ही नागरिकों को भारत के लिए मेडिकल वीजा दिलवाने में क्या दिक्कत है। सुषमा ने इस मामले के साथ कुलभूषण जाधव मामले का भी उदाहरण दिया, सुषमा ने लिखा कि भारतीय नागरिक अवंतिका जाधव ने पाकिस्तान के वीजा के लिए अप्लाई किया था, वे पाकिस्तान में अपने बेटे से मिलना चाहती थी लेकिन उसे वीजा नहीं दिया गया। ये वही बेटा है जिसे पाकिस्तान ने मौत की सजा दी है।

सुषमा ने लिखा कि मैंने अजीज को खुद एक चिट्ठी लिखी थी लेकिन सरताज अजीज ने मेरी चिट्ठी का कोई जवाब नहीं दिया। लेकिन मैं विश्वास दिलाती हूं कि इलाज के लिए अगर सरताज अजीज की तरफ से हमें चिट्ठी मिलती है, तो भारत वीजा देने में देरी नहीं करेगा।

आपको बता दें कि मुंह के बेहद गंभीर टयूमर अमेलोब्लस्टोमा से ग्रस्त फैजा तनवीर इलाज के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मदद मांगी थी। फैजा इलाज के लिए गाजियाबाद स्थित इंद्रप्रस्थ डेंटल कॉलेज और अस्पताल आना चाहती हैं। इलाज के लिए वह एडवांस में 10 लाख रुपये भी दे चुकी है।

आपको बता दें कि हाल ही में यह तय किया गया था कि पाकिस्तान के विदेश मामलों के सलाहकार सरताज अजीज के सिफारिशी पत्र पर ही किसी पाकिस्तानी नागरिक को भारत आने के लिए मेडिकल वीजा मिलेगा। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने उन सभी खबरों को तो बेबुनियाद बताया था कि भारत ने पाकिस्तानी नागरिकों को मेडिकल वीजा देना बंद कर दिया है लेकिन उन्होंने साफ किया कि केवल अजीज के सिफारिशी पत्र पर ही तत्काल कार्रवाई की जाएगी।

गोपाल बागले ने साफ किया था कि मेडिकल की कई शिकायतें लगातार सुषमा स्वराज को सोशल मीडिया के जरिये मिलती हैं। कई बार मेडिकल वीजा दिया भी जा चुका है।

loading...