Breaking News
  • लोकसभा चुनाव 2019 के लिए भाजपा ने जारी किए 7 और उम्मीदवारों के नाम, दिल्ली से चार
  • श्रीलंका: आतंकियों ने चर्च सहित 8 जगहों को बनाया निशाना, कई विदेशी नागरिक भी मारे गए
  • श्रीलंका: सिलसिलेवार धमाकों में मरने वालों की संख्या 290, 400 ज्यादा लोग घायल
  • कोलकाता में बोले अमित शाह- बीजेपी की रैलियों को ममता सरकार इजाजत नहीं दे रही है

चुनाव से पहले राहुल गांधी को झटका, सुप्रीम कोर्ट में देना होगा इस सवाल का जवाब

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव 2019 के बाद किसी भी हाल में सत्ता वापसी करने के इरादे से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी काफी मेहनत कर रहे हैं। प्रधानमंत्री और बीजेपी के सबसे बड़े चेहरे नरेंद्र मोदी की राह पर चलते हुए राहुल गांधी एक दिन में कई चुनावी सभाओं में शामिल हो रहे हैं। अपनी चुनावी सभाओं में राहुल गांधी पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए ‘चौकीदार चोर है’ के नारे भी लगाते दिख रहे हैं। हालांकि चुनावी समर के बीच इसी ‘चौकीदार चोर है’ के नारे को लेकर राहुल गांधी कानूनी पछड़े में फंसते दिख रहे हैं।

दरअसल, फ्रांसा के सथ राफेड डील में भ्रष्टार का आरोप लगाते हुए राहुल गांधी पिछले काफी समय से पीएम मोदी के लिए ‘चौकीदार चोर है’ के नारे लगा रहे हैं। इस बीच पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद राहुल ने कहा कि अब बड़ी अदालत ने भी माना है कि चौकीदार ने चोरी करवाई है। दरअसल, कोर्ट ने द्वारा नए दस्तावेजों के आधार पर राफेल डील पर पुनर्विचार याचिका स्वीकार किया था। लेकिन राहुल ने इसे ऐसे पेश किया जैसे कोर्ट ने सरकार को दोषी करार दे दिया है।

राहुल के इस बयान से नाराज बीजेपी के कई नेता व मंत्रियों ने कड़ी प्रतिक्रिया दी थी। वहीं बीजेपी नेता मीनाक्षी लेखी ने राहुल के खिलाफ आपराधिक अवमानना की याचिका दायर की थी। जिसपर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुआई वाली बेंच ने कहा कि कोर्ट ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ कोई टिप्पणी नहीं की है। सुप्रीम कोर्ट के बयान को गलत तरीके से पेश करने का आरोप में कोर्ट ने राहुल गांधी को नोटिस जारी करते हुए 22 अप्रैल तक जवाब तलब किया है।

loading...