Breaking News
  • 1984 सिख दंगा मामला : कांग्रेसी नेता सज्जन कुमार दोषी करार
  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भ्रष्टाचार मुक्त सरकार चल रही है: रक्षा मंत्री
  • राजस्थान : अशोक गहलोत मुख्यमंत्री और सचिन पायलट ने उप मुख्यमंत्री पद की शपथ ली
  • मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह भारत दौरे पर
  • चक्रवाती तूफान Pethai Cyclone आज आंध्र प्रदेश के तट से टकराएगा

टेंशन खत्म: आधार कार्ड पर सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया बड़ा फैसला

नई दिल्ली: देश की सबसे बड़ी अदालत सुप्रीम कोर्ट ने आधार कार्ड को लेकर बड़ा फैसला सुनाया है। मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला लेते हुए कहा कि जबतक कोर्ट इस पर कोई अंतिम फैसला नहीं ले लेता है तब तक मोबाइल और बैंक खातों को आधार से जोड़ना अनिवार्य नहीं होगा। इसके साथ ही आधार, मोबाइल नम्बर और बैंक खातों को लिंक करने की अंतिम तिथि को बढ़ाया गया है।

बतादें कि मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट उनलोगों को बड़ी राहत दी है, जिन्होंने किसी कारण बस अभी भी आधार कार्ड नहीं बनवा सके हैं। सुप्रीम कोर्ट ने आधार मामले पर सुनवाई के बाद कहा है कि ‘जब तक आधार को अनिवार्य किए जाने पर कोर्ट कोई अंतिम फैसला नहीं दे देती है, तब तक सरकार मोबाइल नंबर और बैंक खातों को आधार से लिंक करना अनिवार्य नहीं कर सकती। सुप्रीम कोर्ट ने पिछली सुनवाई के दौरान केंद्र से यह पूछा था कि आधार, मोबाइल नम्बर और बैंक से लिंक कराने कीतिथि को आगे बढ़ाया जा सकता है।

CS मारपीट: केजरीवाल के सलाहकार ने दिया इस्तीफा, पुलिस पूछताछ में कबूली थी अहम बात

जिसपर केंद्र ने कहा कि ‘हां ऐसा संभव है’। वहीँ मंगलवार को चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अगुवाई वाले बेंच ने कहा कि ‘सरकार आधार लिंक करने को अनिवार्य करने पर जोर नहीं दे सकती है। इसके साथ ही तत्काल पासपोर्ट सेवा के लिए आधार की मांग को भी गलत ठहराया गया है। कोर्ट ने यह कहा कि सरकार किसी को भी आधार नंबर देने के लिए मजबूर नहीं कर सकती।

‘बाबरी मस्जिद की जगह सिर्फ बाबरी मस्जिद बने और कुछ नही’

हालाँकि सरकारी सेवाओं के लाभ के लिए आधार कार्ड की मांग की जा सकती है। वहीँ सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद करोड़ों लोगों को राहत मिली है जिनका अभी तक आधार कार्ड नहीं बना था।

यह भी देखें-

 

 

loading...