Breaking News
  • नंदा देवी शिखर के पास ITBP को 7 पर्वतारोहियों के शव मिले
  • हार के बाद अखिलेश-मुलायम पर भड़की मायावती
  • BMC ने CM देवेंद्र फडणवीस के बंगले को घोषित किया डिफॉल्टर
  • संसद के दोनों सदनों में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव आज
  • बांग्लादेश में ट्रेन हादसे में 4 की मौत, 150 से ज्यादा घायल

BJP और मोदी के खिलाफ विपक्ष के बैठक में 16 पार्टियां, लेकिन गायब रही दो बड़ी पार्टी

नई दिल्ली: साल 2019 लोकसभा चुनाव में सत्ताधारी बीजेपी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पूरी टीम को उम्मीद है कि जनता उन्हें एक और मौका देगी। वहीं दूसरी ओर बीजेपी और मोदी को सत्ता से बेदखल करने के लिए विपक्ष एकजुटता की खबरें भी काफी चर्चा में रही है। लेकिन रह-रह कर विरोधी खेमे में ऐसी हवा चल पड़ती है जो विपक्ष की एकता पर सवालिया निशान लगाते हैं।

ऐसा ही कुछ तस्वीर सोमवार को राजधानी नई दिल्ली में देखने को मिली। आज आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबूनायडू की ओर से विरोधी दलों की एक बैठक बुलाई गई, जिसमे कुल 16 पार्टियों के नेता शामिल हुईं। वहीं खबर है कि विरोधी खेमे में अपनी मजबूत हैसियत रखने वाली दो पार्टी सपा और बसपा के नेता बैठक में शामिल नहीं हुए। जिसने विपक्ष एकता पर फिर सवाल खड़े किए हैं।

48MP बैक कैमरे के साथ Honor V20 की पहली झलक, डिस्प्ले के छेद में है फ्रंट कैमरा

इस बैठ में कांग्रेस पार्टी की ओर से पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी समेते पार्टी के अन्य कई दिग्गज नेता मौजूद रहे हैं। इस दौरान सोनिया गांधी सभी विरोधी दलों के नेताओं को सम्मानित किया। संसद भवन के एनेक्सी में आयोजित बैठक में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और एच. डी. देवगौड़ा के साथ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी मौजूद रहे।

‘बच्चे पैदा करो, देरी मत करो’, सरकार ने पास किया कानून- नकद पुरस्‍कार भी!

इस बैठक में कांग्रेस के अलवा दिल्ली की सत्ताधारी आम आदमी पार्टी की ओर से अरविंद केजरीवाल, संजय सिंह और भगवंत मान मैजूद रहे। जबकि तृणमूल कांग्रेस की ओर पार्टी प्रमुख ममता बनर्जी शामिल हुई, नेशनल कॉन्फ्रेंस की ओर से फारूक अब्दुल्ला, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के शरद पवार और प्रफुल्ल पटेल और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी समेत अन्य कई दलों के नेता मौजूद रहे।

loading...