Breaking News
  • मंदी से निपटने के लिए सरकार ने किए बड़े ऐलान, ऑटो सेक्टर को होगा उत्थान
  • तीन देशों की यात्रा के दूसरे चरण में यूएई की राजधानी आबू धाबी पहुंचे मोदी
  • देश भर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम, राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं
  • 1st Test Day-2: भारत की पहली पारी 297 रनों पर सिमटी, रवींद्र जडेजा ने बनाए 58 रन

सोनभद्र हत्याकांड : हिरासत में प्रियंका, बोलीं- नहीं पता कहां ले जा रहे

नोएडा : सोनभद्र हत्याकांड मामले को लेकर सियासत लगातार गरमाता जा रहा हैं। एक तरफ जहां योगी सरकार सब कुछ ठिक होने की बात कर रहें हैं तो वहीं दूसरी तरफ जब कांग्रेस उपमहासचिव प्रियंका गांधी इस हत्याकांड के पीड़ितों से मिलने जाती हैं तो उन्हें हिरासत में ले लिया जाता है। जिसकी वज़ह सरकार किसी तरह के विद्रोह का अंकुश लगाना बताती है। आपको बता दें कि योगी सरकार ने इस हिंसा को लेकर पूरे क्षेत्र में धारा 144 लागू कर दिया हैं।  

गौरतलब हैं कि सोनभद्र हत्याकांड को लेकर प्रियंका गांधी वाराणसी से सोनभद्र की ओर जा रही थी, जिस दौरान उन्हें मिर्जापुर में रोका गया। जिसके बाद प्रियंका कार्यकर्ताओं के साथ धरने पर बैठ गईं। कांग्रेस नेता अजय राय ने दावा किया कि पुलिस ने प्रियंका गांधी को अपने हिरासत में लिया गया है। और पुलिस प्रियंका गांधी को मिर्जापुर की तरफ ले जा रही है।

प्रियंका गांधी ने कहा, ''मैं सिर्फ पीड़ितों के परिवार के मिलना चाहती हूं, मैंने यहां तक कहा है कि मैं अपने साथ सिर्फ चार लोगों लेकर जाऊंगी। इसके बावजूद प्रशासन मुझे जाने नहीं दे रहा है। उन्हें बताना चाहिए हमें क्यों रोका जा रहा है। हम यहां शांति पूर्वक धरने पर बैठे रहेंगे।'' वहीं इस मामले पर सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सरकार इस मामले में आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई केरगी। योगी ने कहा, '' इम मामले में आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई हो रही है। अब तक मामले में मुख्य आरोपी प्रधान समेत 25 लोगों को हिरासत में ले लिया गया है।'' आगे उन्होंने कहा, ''दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी। सोनभद्र में हुई हत्या की जांच कमिटी केरगी। जो भी दोषी हैं उनको छोड़ा नहीं जाएगा।''

 

ख़बर की माने तो एक जमीन को लेकर काफी समय से ग्राम प्रधान और ग्रामीणों के बीच आपसी द्वंद चल रहा था, जिसके बाद बुधवार को ग्रम प्रधान अपने समर्थकों के साथ जमीन कब्जाने पहुंच गये। जिस दौरान यह हिंसक झड़प हुई। जिसमें 3 महिला समेत 12 लोगों की मौत एवं 25 लोगल घायल हो गए। इस हिंसक घटना के बाद घटनास्थल पर भारी सुरक्षाबलों को तैनाती कर दी गई थी। अब इसी मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी ग्राम प्रधान यज्ञदत्त, उनके भाई और भतीजे समेत 26 लोगों को आरोपी बनाते हुए गिरफ्तार कर लिया है। मामले में पुलिस ने 28 लोगों के खिलाफ नामजद जबकि 50 अज्ञात लोगों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज की है।

loading...