Breaking News
  • मंदी से निपटने के लिए सरकार ने किए बड़े ऐलान, ऑटो सेक्टर को होगा उत्थान
  • तीन देशों की यात्रा के दूसरे चरण में यूएई की राजधानी आबू धाबी पहुंचे मोदी
  • देश भर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम, राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं
  • 1st Test Day-2: भारत की पहली पारी 297 रनों पर सिमटी, रवींद्र जडेजा ने बनाए 58 रन

सोनभद्र हत्याकांड : प्रियंका से मिलते ही रो पड़े पीड़ित परिजन, हिरासत में लिया गया...

नोएडा : सोनभद्र नरसंहार का मामला बीते हुए चार दिन हो गए हैं लेकिन यह मामला ठंडाने का नाम नहीं ले रहा। एक तरफ जहां प्रियंका पीड़ित के परिवारों से मिलने के लिए अपने बयान पर अडिग हैं वहीं दूसरी तरफ पश्चिम बंगाल से टीएमसी का एक खेमा भी पीड़ितों से मिलने के लिए वाराणसी आ पहुंचे। जहां उन्हें हिरासत में ले लिया गया। जिनमें तृणमूल कांग्रेस के ओब्रायन, सुनील मंडल और सांसद अबीर रंजन बिश्वास शामिल हैं।

बता दें कि इससे पहले प्रियंका को भी हिरासत में लिया गया था, लेकिन फिर उन्हें छोड़ दिया गया। हालांकि प्रियंका ने साफ कर दिया कि वो नरसंहार पीड़ितों से मिले बगैर वापस नहीं लौटेंगी। गांधी ने कहा कि जब तक उन्हें सोनभद्र नहीं जाने दिया जाएगा तब तक वो पीछे नहीं हटेंगी।

प्रियंका के इस जिद्द के आगे प्रशासन को भी झुकना पड़ा, लेकिन प्रशासन ने भी साफ कर दिया कि सोनभद्र में धारा 144 लागू है इसलिए वे सोनभद्र नहीं जा सकती। हालांकि वे उनसे मिर्जापुर या वाराणसी में मिल सकती है।   जिसके बाद सोनभद्र नरसंहार के पीड़ित परिजन प्रियंका गांधी से मिलने चुनार गेस्ट हाउस पहुंचे लेकिन प्रशासन ने सिर्फ दो ही लोगों को प्रियंका गांधी से मिलने की इजाजत दी। प्रियंका से मिलते ही सोनभद्र नरसंहार के पीड़िता रोने लगे, जिसके बाद उन्होंने सांत्वना दिया।

प्रियंका गांधी ने कहा कि पूरी योजना से ग्रामीणों पर गोलियां चलाई गई हैं, पीड़ितों की सुरक्षा जरूरी है। पीड़ितों पर राजनीति नहीं होनी चाहिए और उन्हें उनकी जमीन वापस मिलनी चाहिए। जिसके बाद प्रियंका ने सोनभद्र नरसंहार के पीड़ित परिजनों को 10 लाख रूपये देने की भी घोषणा की।  

loading...