Breaking News
  • दिल्लीः कोहरे के चलते लगभग 100 ट्रेन देरी से चल रही है, कई ट्रेनों के समय में बदलाव
  • मुंबई: भारत और इंग्लैंड के बीच चौथा टेस्ट मैच वानखेड़े स्टेडियम में, भारत 2-0 से आगे
  • पाकिस्तान माना कि कथित भारतीय जासूस कुलभूषण जाधव को लेकर पास पर्याप्त सबूत नहीं

ना घर के ना घाट के ‘गुरु’, बैंस ब्रदर्स और परगट ने चुनी अलग राह!

NEW DELHI:- बीजेपी का साथ छोड़ने की क्रिकेटर से नेता बने नवजोत सिंह सिद्धू को बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ सकती है। पंजाब में सिद्धू बिल्कुल ही अकेले पड़ सकते हैं। एक तरफ जहां बैंस ब्रदर्स आम आदमी पार्टी के साथ जा सकते हैं तो परगट सिंह के भी कांग्रेस में जाने की पुख्ता खबरें सूत्रों के हवाले से आ रही है।

मिली जानकारी के मुताबिक, नवजोत सिंह सिद्धू को इन तीनों ही विधायकों ने कोई भी फैसला लेने के लिए अधिकृत किया था, लेकिन सिद्धू काफी वक्त लगा रहे थे। कभी वह आम आदमी पार्टी से बातचीत कर रहे थे तो कभी कांग्रेस के साथ उनकी डील चल रही थी, लेकिन कोई भी फाइनल फैसला नवजोत सिंह सिद्धू नहीं ले पा रहे थे। इसी वजह से इन तीनों विधायकों ने अपने अलग-अलग रास्ते चल दिए हैं।

आवाज-ए-पंजाब मोर्चा का हिस्सा रहे बैंस बंधु अगले साल होने जा रहे विधानसभा चुनाव के लिए आम आदमी पार्टी के साथ हाथ मिला सकते हैं। बीते 16 नवंबर को एसवाईएल के मुद्दे पर विधायक के तौर पर इस्तीफे का ऐलान करने वाले सिमरजीत सिंह बैंस और बलविंदर सिंह बैंस जल्द अपने अगले कदम का ऐलान कर सकते हैं।

‘आप’ नेता ने कहा कि बैंस बंधु और आप के वरिष्ठ नेताओं के बीच कई दौर की बातचीत के बाद यह फैसला हुआ है। आप के संगठन निर्माण के प्रमुख दुर्गेश पाठक ने कहा कि बैंस बंधु के साथ गठबंधन होगा।