Breaking News
  • जम्मू-कश्मीर के पूछ में पाक सेना ने किया युद्ध विराम का उल्लंघन, भारतीय सेना दे रही है मुंहतोड़ जवाब
  • देश भर में धूम-धाम से मनाया गया 71वां स्वतंत्रता दिवस और जन्माष्टमी का त्योहार
  • महाराष्ट्र में दही-हाथी संबंधित घटनाओं में दो मृत, 197 घायल
  • हिमाचल प्रदेश के चंबा में 3.5 की भूकंप के झटके

नहीं थम रहा जेडीयू में घमासान: शरद यादव का नीतीश कुमार पर बड़ा बयान

पटना: नीतीश कुमार ने महागठबंधन की रार तो समेट ली है, लेकिन अब उनकी ही पार्टी जेडीयू में उनके फैसले को लेकर घमासान छिड़ा हुआ है। जेडीयू नेता और पूर्व अध्यक्ष शरद यादव ने नीतीश कुमार पर पलटवार करते हुए कहा कि उन्हें किसी पद की लालसा नहीं है। वह हमेशा से ही जनता के लिए लड़ते आये हैं और जनता के लिए ही लड़ते रहेंगे।

एनडीए के साथ मिलकर सरकार बनाने वाले नीतीश कुमार को उनके ही घर से चुनौती मिल रही है। जेडीयू में छिड़े घमासान में शरद यादव और नीतीश कुमार के बीच जुबानी जंग जारी है। हाल ही में नीतीश कुमार ने कहा था कि सार्वजनिक रूप से नाराजगी जाहिर करने के बजाय वो पार्टी के मंच पर उनसे बहस करें। उनके मन में जो भी सवाल हैं वे पार्टी फोरम में उठाएं। जिसके बाद जेडीयू के पुर्व अध्यक्ष शरद यादव ने नीतीश कुमार के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि वह उसूलों पर चलते हैं।

उन्हें किसी पद का लोभ नहीं है। यादव ने कहा कि जहां तक रहा सवाल हारने-जीतने का तो अभी भविष्यवाणी मैं नहीं कर सकता हूं। उन्होंने कहा कि जनता के दिए जनादेश का सम्मान करना चाहिए था। उन्होंने कहा कि बिहार की जनता ने हमें वोट दिया था। अब उस जनता के बीच वह विश्वास महागठबंधन के टूटने से कायम नहीं रहा है। इसका नुकसान भी उठाना पड़ सकता है। यादव ने आगे कहा कि मुझे जिंदगी भर किसी से डर नहीं लगा और देश के हित के लिए हमेशा लड़ा हूं। साथ ही उन्होंने कहा कि वह मजदूर किसान और युवा बेरोजगार और गरीब के लिए हमेशा खड़े हैं।

मालूम हो कि नीतीश कुमार के महागठबंधन से अलग होकर एनडीए के साथ सरकार बनाने के बाद से ही जेडीयू में राजनीतिक उथल-पुथल मची हुई है। शरद यादव सहित कई नेता इस नये गठबंधन को पचा नहीं पा रहे हैं। 

loading...

Subscribe to our Channel