Breaking News
  • लोकसभा चुनाव 2019 के लिए भाजपा ने जारी किए 7 और उम्मीदवारों के नाम, दिल्ली से चार
  • श्रीलंका: आतंकियों ने चर्च सहित 8 जगहों को बनाया निशाना, कई विदेशी नागरिक भी मारे गए
  • श्रीलंका: सिलसिलेवार धमाकों में मरने वालों की संख्या 290, 400 ज्यादा लोग घायल
  • कोलकाता में बोले अमित शाह- बीजेपी की रैलियों को ममता सरकार इजाजत नहीं दे रही है

शाहनवाज हुसैन के निशाने पर आजम खान, मुस्लिम संस्थानों पर भी बोला हमला

नई दिल्ली: सियासी महासमर के बीच ‘बजरंग बली’ को ‘बजरंग अली’ बता कर आजम खान बुरी तरह फंसते दिख रहे हैं। एक ओर आजम को बीजेपी के फायार ब्रांड नेता गिरिराज सिंह ने चेतावनी दी है तो दूसरी ओर अब बीजेपी के मुस्लिम चेहरे भी आजम के खिलाफ हल्ला बोल रहे हैं।

आजम के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए बीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि जिस तरह आजम खान ने बजरंग बली के साथ अली जोड़ा है और हजरत अली के नाम के आगे बजरंग अली कर रहे हैं, वह दोनों धर्मों का अपमान है। उन्होंने कहा कि जमीयत उलेमा ए हिन्द हो या दारुल उलूम देवबंद, जो हर विषय पर बोलते हैं वो इस विषय चुप क्यों हैं?”

आपको बता दें कि लोकसभा चुनाव को देखते हुए देश का सियासी पारा चरम पर हैं। एक दूसरे पर जुबानी हमला बोलते हुए आपत्तिजनक भाषाओं का इस्तेमाल कर उब चुके हैं, लिहाजा अब वे भगवान को भी चुनावी मैदान में घसीट रहे हैं। इस कड़ी में नेताओं के लिए ‘हनुमान जी’ और उनकी जाति काफी ज्वलंत मुद्दों में से एक दिख रही है।

दरअसल, बसपा प्रमुख मायावती ने चुनावी मंच से मुसलमानों से अपने पक्ष में मतदान की खुली अपील की,  जिसका जवाब देते हुए बीजेपी के फायार ब्रांड नेता योगी आदित्यनाथ ने एक चुनावी सभा में कहा, अगर महागठबंधन को अली पर भरोसा है तो हमे भी बजरंगबली यानी हमुमान जी पर विश्वास है।

अभी इन बयानों की चर्चा थमी भी नहीं थी कि समाजवादी पार्टी के फायर ब्रांड नेता आजम खान ने एक चुनावी सभा के दौरान बजरंगबली को बजरंगअली बता दिया। उन्होंने एक रैली को संबोधित करते हुए कहा था, ''बजरंग अली तोड़ दो दुश्मनों की नली। बजरंग अली ले लो जालिमों की बली।'' जिसके बाद गिरिराज सिंह ने ट्वीट कर लिखा कि आजम खान ने पहले प्रधानमंत्री मोदी जी को गाली दिया अब हमारे भगवान को गाली दे रहा…आज़म खान,बेगूसराय का चुनाव खत्म होने के बाद रामपुर आके हम बताएंगे कि बजरंग बली क्या हैं?''

loading...