Breaking News
  • मंदी से निपटने के लिए सरकार ने किए बड़े ऐलान, ऑटो सेक्टर को होगा उत्थान
  • तीन देशों की यात्रा के दूसरे चरण में यूएई की राजधानी आबू धाबी पहुंचे मोदी
  • देश भर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम, राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं
  • 1st Test Day-2: भारत की पहली पारी 297 रनों पर सिमटी, रवींद्र जडेजा ने बनाए 58 रन

जम्मू-कश्मीर में अफवाहों का बवंडर, राज्य में धारा 144 लागू, उमर-महबूबा नजरबंद

नई दिल्ली : जम्मू-कश्मीर में जारी अफवाहों के बवंडर के बीच सोमवार को कुछ बड़ा होने की अटकलें हैं। राज्य में धारा 144 लागू कर दी गई है। सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रही पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती और उमर अब्दुल्ला समेत विपक्ष के कई बड़े नेताओं को नजरबंद कर दिया गया है।

राजनीतिक पार्टियों के नेताओं को नजरबंद किए जाने को लेकर सरकार विपक्ष के निशाने पर है। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि ऐसा करना लोकतंत्र की हत्या है।

वहीं कश्मीर की मौजूदा हालातों से चिंतिंत पूर्व सीएम महबूबा मुफ्ती को पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी की याद सता रही है।

इन सबके बीच दिल्ली में मोदी सरकार की कैबिनेट बैठक भी खत्म हो चुकी है। बैठक से पहले गृह मंत्री अमित शाह और NSA अजीत डोभाल पीएम मोदी से मिलने पहुंचे थे। वहीं अब कश्मीर मसले पर गृह मंत्री संसद के दोनों सदन में बयान देंगे। इससे पहले कश्मीर समेत देश के कुछ अन्य राज्यों में सुरक्षा के कड़े इंतेजाम किए गए है। राज्य की मौजूदा हालात के मद्देनजर मोबाइल, इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं।

आपको बात दें कि जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा दिलाने वाली धारा 370 और 35ए की वैधता छिनने को लेकर बीते कई दिनों से अफवाह उड़ाई जा रही है। जिससे परेशान राज्य की स्थानिय सियासी पार्टियां संसद में बयान की मांग कर रही है। साथ ही पार्टियों ने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर 370 और 35ए से छेड़छाड़ होती है तो इसका अंजाम बुरा होगा।

वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस, आरजेडी समेत अन्य कई दलों ने भी संसद दोनों सदनों राज्यसभा और लोकसभा में स्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया है। कांग्रेस पार्टी ने इस मसले पर पीएम मोदी से भी बयान की मांग करेगी।

loading...