Breaking News
  • आज मनाया जा रहा है विश्व मातृभाषा दिवस, इस साल का थीम है 'सतत विकास के लिए भाषाई विविधता और बहुभाषावाद की संख्या'
  • लखनऊ से बिजनोर लौट रहे नूरपुर से भाजपा विधायक Lokender Singh का सड़क हादसे में निधन, दो की मौत
  • लखनऊ: प्रधानमंत्री मोदी द्वारा निवेशकों के शिखर सम्मेलन का उद्घाटन
  • मुख्य सचिव के साथ बदसलूकी के आरोप में AAP विधायक प्रकाश जरवाल गिरफ्तार
  • PNB घोटाला: जीएम रैंक के अधिकारी Rajesh Jindal गिरफ्तार, 2009 से 2011 के बीच थे शाखा के प्रमुख

बजट सत्र: हार से घबराई राजे, बजट सत्र में किया किसानों का कर्ज माफ़

जयपुर: राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे सिंधिया सोमवार को विधानसभा में बजट पेश कर रहीं हैं। राजे सरकार ने अपने आखिरी बजट में किसानों को बड़ा तोहफा दिया है। राज्य सरकार ने किसानों का कर्ज माफ़ करते हुए आंगनवाड़ी महिलाओं का मानदेय भी बढ़ा दिया है।

बतादें कि राजस्थान की वसुंधरा राजे सिंधिया सोमवार को अपनी सरकार का आखिरी बजट 2018-2019 पेश कर रहीं हैं। विधानसभा में विपक्ष के शोर शराबे के बीच राज्य की राजे सरकार ने किसानों के लिए बड़ी सौगात दी है। राजे सरकार ने 50 हजार तक किसानों का कर्ज माफ़ कर दिया है। इसके साथ ही वसुंधरा राजे ने महिलाओं को बड़ी खुशखबरी दी है। सरकार ने आंगनवाड़ी की महिलाओं का मानदेय बढ़ा दिया है। वसुंधरा राजे ने बजट भाषण में सशक्त राजस्थान पर जोर देते हुए युवाओं को नौकरी, किसानों के कर्ज और आंगनवाड़ी महिलाओं के लिए मानदेय बढ़ाया है।

ट्विटर और इंस्टाग्राम के बाद अभिषेक का फेसबुक हैक- कैटरीना से किया प्यार का इजहार !

बजट भाषण में राज्य के शिक्षा के क्षेत्र में 77 हजार के करीब नई नौकरियां देने की बात की गयी है। सोमवार को विधानसभा में बजट भाषण के दौरान किसानों, महिलाओं के साथ साथ वृद्धजनों के लिए भी सरकार ने बड़ी योजना का ऐलान किया है। बजट भाषण में 80 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए रोडवेज में फ्री सफर कराया जाएगा। साथ ही राज्य के करीब 7 लाख नए घरों को बिजली कनेक्शन मुहैया करवाया जाएगा। राज्य की बोर्ड परीक्षा में 85 प्रतिशत से अधिक नम्बर पाने वाली छात्राओं को राज्य सरकार स्कूटी देने का वादा किया गया है। इसके साथ ही सीएम सक्षम योजना से 5 लाख बालिकाओं का फायदा मिलेगा।

नागरिक मौत मामला: सुप्रीम कोर्ट ने लगाई मेजर के खिलाफ FIR पर रोक

राज्य में बने रहने वाले पेयजल संकट के लिए सरकार ने 37 हजार करोड़ की लागत इस संकट को दूर करेगी। इसके साथ ही राज्य सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों को जोड़ने के लिए सडकों का जाल बिछाने सहित, सिंचाई, शिक्षा आदि के भी घोषनाएं की हैं। विधानसभा में बजट भाषण के दौरान विपक्ष का हंगामा भी जारी रहा। माना जा रहा है कि सरकार ने दो लोकसभा और एक विधानसभा सीट पर मिली करारी हार को ध्यान में रखकर बजट पेश किया है। राज्य में वसुंधरा सरकार का यह आखिरी बजट है, राज्य में इसी साल विधानसभा चुनाव होने हैं, ऐसे में जीत सुनिश्चत करने के लिए सरकार ने किसानो का कर्ज माफ़ कर बड़ा दांव खेला है।      

यह भी देखें-

loading...