Breaking News
  • मोदी की बंपर जीत पर राहुल गांधी ने दी शुभकामनाएं
  • अमेठी सीट से हारे राहुल गांधी, वायनाड से मिली जीत
  • मोदी ने अपने समर्थकों के साथ सरकार बनाने का दावा पेश किया
  • सर्वसहमति से NDA विधायक दल के नेता चुने गए नरेंद्र मोदी
  • राहुल गांधी ने CWC के सामने इस्तीफे की पेशकश की, लेकिन सदस्यों ने ठुकराया: कांग्रेस
  • अमेठी में स्मृति ईरानी के करीबी कार्यकर्ता सुरेंद्र सिंह की गोली मारकर हत्या
  • चार धाम यात्रा: छह महिने के बाद खुले केदारनाथ धाम के कपाट, कल खुलेंगे बद्रीनाथ के कपाट
  • वो (ममता) अब मेरे लिए पत्थरों और थप्पड़ों की बात करती हैं: मोदी
  • पश्चिम बंगाल के बांकुरा में पीएम मोदी की चुनावी रैली, ममता पर बोला हमला
  • लोकसभा चुनाव 2019: NDA को प्रचंड बहुमत, 300 से अधिक सीटों पर बीजेपी की जीत
  • 24 मई: आज भंग हो सकती है 16वीं लोकसभा, पीएम मोदी की अध्यक्षता में केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक

‘अगर मोदी फिर पीएम बने तो आगे चुनाव होने की कोई गारंटी नहीं’

नई दिल्ली: आगामी लोकसभा चुनाव की जारी चर्चाओं के बीच कांग्रेस शासित राज्य राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गलत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भीषण आरोप लगाते हुए कहा कि, अगर मोदी पुन: प्रधानमंत्री बने तो इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि आगे फिर से चुनाव होंगे।

आपको बता दें कि हाल ही में राजस्थान विधानसभा चुनाव के बाद कांग्रेस पार्टी की सरकार के मुख्यमंत्री बने अशोक गहलोत ने यह बयान श्रीडूंगरगढ़ में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए दिया है। सभा में मौजूद लोगों को चेतवनी देते हुए सीएम ने पीएम मोदी के साथ-साथ बीजेपी और सहयोगी संगठन आरएसएस पर भी निशाना साधा।

49 की मौत, न्यूजीलैंड में आतंकी हमले का पाकिस्तानी कनेक्शन!

उन्होंने कहा कि, मैं गंभीरता से कह रहा हूं कि अगर मोदी अपनी पार्टी के साथ पुन: चुनाव जीत कर आ गए तो आप यह बात दिमाग में रखें कि आगे चुनाव होने की कोई गारंटी नहीं होगी। गहलोत ने कहा कि, मैं समझता हूं कि बीजेपी और आरएसएस के लोग अपने विरोध को सहन नहीं कर पाते।

सीएम ने गांधी जी कथन का जिक्र करते हुए कहा, गांधी ने कहा था कि लोकतंत्र में विपक्ष क्या कहता है उसका सम्मान होना चाहिए। अपना कोई विरोधी है तो उसकी बात का भी सम्मान होना चाहिए। लेकिन पीएम मोदी, पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे और आरएसएस के लोग विरोध सहन नहीं कर पाते, क्योंकि इनका लोकतंत्र में यकीन ही नहीं है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल साथियों के साथ कोर्ट में हाजिर हों…

उन्होंने कहा कि, ये लोकतंत्र का मुखौटा पहन कर राजनीति में उतरे हुए लोग हैं। इनके पास जनता के लिए कोई नीति और कार्यक्रम नहीं है जो कांग्रेस का मुकाबला कर सके। साथ ही उन्होंने उत्तर प्रदेश के अयोध्या स्थित राम मंदिर के मसले को लेकर कहा कि बीजेपी को सिर्फ चुनाव में ही राम मंदिर याद आता है।   

अखिलेश यादव ने ठुकरा दी पिता मुलायम की यह मांग, हारे हुए नेता पर खेल गये दांव…

loading...