Breaking News
  • अयोध्या मामले में 2 अगस्त से खुली कोर्ट में सुनवाई, 31 जुलाई तक मध्यस्थता की प्रक्रिया
  • महाराष्ट्र में गोरखपुर अंत्योदय एक्सप्रेस पटरी से उतरी
  • अमरनाथ यात्रा पर आतंकी कर सकते हैं आतंकी हमला : सूत्र
  • कर्नाटक में कुमारस्वामी सरकार का शक्ति परीक्षण, 2 बसों में विधानसभा पहुंचे BJP विधायक

सावधान : आसमान से बरस रहे है ‘आग के गोले’, जल रहा है भारत, इन राज्यों में अलर्ट जारी

नई दिल्ली : पिछले कुछ दिनों से लगातार आसमान से आग के गोले बरस रहे है, वो भी ऐसे मानो जिससे पूरा भारत जल रहा हो। चारों तरफ आग ही आग। यह आग किसी और के नहीं उस सूर्य की है जो लगातार अपनी वक्र दृष्टि बनाएं हुए। आने वाले कुछ हफ्तों तक फिलहाल यह सूर्य शांत नहीं होनेवाला, वह लगातार आगों की बारिस इसी बेरहमी से करता रहेगा। इस बेरहमी से आम जनों को सुरक्षित रखने के लिए मौसम विभाग ने रेड अलर्ट जारी कर दिया है। जिसमें दिल्ली (एनसीआर), उत्तर प्रदेश (कानपुर), राजस्थान (श्रीगंगानगर, चूरू, जोधपुर), मध्य प्रदेश (दमोह, भोपाल) और हिमाचल प्रदेश (शिमला) है।

दिल्ली में भीषण गर्मी और लू के थपेड़ों से मौसम का तापमान लगातार ऊपर चढ़ता रहा। जिससे यह पारा शुक्रवार को 47 डिग्री पर जा पहुंचा। वहीं नोएडा, गाजियाबाद, फरीदाबाद और गुरुग्राम में भी तापमान 45 से 46 डिग्री के बीच दर्ज किया गया। मौसम विभाग की माने तो इस बार का तापमान पिछले सारे रिकॉर्ड को तोड़ सकता है। अगले एक हफ्ते तक गर्मी से राहत मिलने की कोई उम्मीद नहीं है।

अगर हम राजस्थान की बात करें तो राजस्थान के श्रीगंगानगर में पारा 49.6 डिग्री तक पहुंच गया, जो अब तक का सबसे अधिक तापमान है। गर्मी के इस तापमान ने पिछले 75 सालों का रिकॉर्ड तोड़ डाला। इससे पहले श्रीगंगानगर का तापमान 30 मई 1944 को 49.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया था। राजस्थान के ही चुरु में अधिकतम तापमान 48.5 और बीकानेर का 46.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। सिर्फ राजस्थान ही नहीं बल्कि पहाड़ो की रानी शिमला में भी शुक्रवार का अधिकतम तापमान 30 डिग्री दर्ज किया गया जो सामान्य से पांच डिग्री अधिक है। वहीं ऊना में पारा 46 डिग्री और हरियाणा के नारनौल में तापमान 47 डिग्री तक पहुंच गया है।

उत्तर प्रदेश में भी लू और गर्मी से लोगों का हाल बेहाल हैं। प्रयागराज में इन दिनों आसमान से आग की बारिस हो रही है। जहां शुक्रवार का तापमान 48 के पार पहुंच गया। जबकि कानपुर का तापमान 46.2 डिग्री दर्ज किया गया। वाराणसी में 46 डिग्री पारा को पार कर गर्मी ने कई वर्षों का रिकार्ड तोड़ दिया। मौसम विभाग के अनुसार यह प्रकोप दो-तीन जून तक बने रहने की संभावना है। मौसम विभाग ने बताया कि, जब तक बंगाल की खाड़ी से बहने वाली पूर्वी हवाएं उत्तर प्रदेश से होती हुई दिल्ली नहीं पहुंच जाती तब तक लू और गर्म हवाओं का कहर जारी रहेगा।

आपको बता दें कि दक्षिण भारत के तेलंगाना के कई हिस्से एक महीने से लू की चपेट में हैं। तेलंगाना में लू और भीषण गर्मी से 22 दिन में लगभग 17 लोगों की मौत हो चुकी है। भारतीय मौसम विभाग ने तेलंगाना में भी अगले तीन दिनों तक तेज लू चलने की चेतावनी और लोगों को धूप में निकलने से बचने की सलाह दी है।

loading...