Breaking News
  • गुजरात: 44 बिल्डर्स और फाइनेंसरों के कई ठिकानों पर आयकर विभाग के छापे
  • सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की वार्षिक समीक्षा बैठक में वित्त मंत्री, कर्ज देने की प्रक्रिया को ईमानदार बनाएं बैंक
  • उत्तर भारत में मौसम का कहर जारी, हिमाचल में 3 की मौत, बादल फटने से मची तबाही
  • भारत-पाक विदेश मंत्रियों की वार्ता रद्द होने के बाद सार्क बैठक पर संकट

आम चुनाव: राहुल ने किया देश से पहला वादा, GST से दिलाएंगे निजात!

कर्नाटक: कर्नाटक में व्यापारियों से रूबरू होते हुए कांग्रेस प्रमुख राहुल गाँधी केंद्र की नरेन्द्र मोदी सरकार पर बड़ा हमला किया है। गाँधी ने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार के फैसले आरएसएस के यहाँ से लिए जाते हैं। व्यापारियों से बातचीत करते हुए राहुल ने जीएसटी को एकबार फिर से गब्बर सिंह टैक्स बताया है। साथ ही उन्होंने सरकार बनने पर इसमें बदलाव करने की बात कही।

बतादें कि केंद्र की नरेन्द्र सरकार पर हमलावर होते हुए कांग्रेस प्रमुख राहुल गाँधी ने कर्णाटक में व्यापारियों से मुलाकात कर जीएसटी और नोटबंदी से व्यवसाय पर बड़े प्रभाव की जानकारी ली। इस दौरान राहुल गांधी ने कहा कि नरेन्द्र मोदी सरकार देश में नौकरी के संशाधन पैदा करने में पूरी तरफ से विफल रही है। उन्होंने कहा कि जहा पडोसी देश चीन हर रोज 50 हजार नौकरियां पैदा कर रहा है वहीँ मोदी काल में भारत महज 400 नौकरियां ही पैदा कर पा रहा है।

आपके आधार कार्ड का प्रयोग कहां-कहां हो रहा है, ऐसे करें पता...

नोटबंदी और उसके बाद जीएसटी ने देश का विकास रोक दिया है। राहुल गांधी ने कहा कि मोदी सरकार ने ऐसे समय में सत्ता में आई थी जब आर्थिक ग्रोथ के हिसाब से भारतीय अर्थव्यवस्था मजबूत थी, लेकिन सरकार की नीतिओं के चलते देश की अर्थव्यवस्था डगमगा गयी है। राहुल गाँधी ने कहा कि केंद्र में उनकी सरकार आने पर वह जीएसटी के मौजूदा स्वरुप को बदलेंगे।

जम्मू कश्मीर में आतंकी की उम्र महज छह माह!

राहुल ने केंद्र पर हमलावर होते हुए कहा कि जीएसटी को लागू करने से पहले पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने वित्त मंत्री अरुण जेटली को सलाह दी थी लेकिन सरकार ने उनकी सलाह को नहीं माना। साथ ही राहुल ने कहा वह जीएसटी के मौजूदा 5 टैक्स स्लैब के पक्षधर नहीं है। उन्होंने कहा कि रोजमर्रा की अत्यधिक जरूरतों की चीजों पर जीएसटी के जीरो स्लैब में रखा जाये।

यह भी देखें-

loading...