Breaking News
  • चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने सुप्रीम कोर्ट में आज चार नए जजों को दिलाई शपथ
  • ह्यूस्टन में हाउडी मोदी कार्यक्रम की सफलता पर भड़का पाकिस्तान
  • आर्मी चीफ बिपिन रावत का बयान, पाकिस्तान ने बालाकोट में आतंकी कैंपों को फिर से सक्रिय कर दिया है
  • गृह मंत्री ने कहा कि कहा कि 2021 की जनगणना में मोबाइल एप का प्रयोग होगा

चुनाव हारने के बाद पहली बार अमेठी पहुंचे राहुल, तो लगे ‘न्याय दो’ के नारे

नोएडा : जले पर नमक...माफ किजिएगा क्योंकि ये तस्वीरें राहुल गाधी के जख्मों पर नमक की है। लोकसभा चुनाव पार्टी और परिवरा की पुश्तैनी सीट गंवाने वाले राहुल गांधी हार के कारणों का पता लगाने अमेठी पहुंचे, यहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने एक बार फिर जोरदार स्वागत किया। किसी ने जलेबी खिलाई तो किसी ने गाल ही चूम लिया, लेकिन ये लाड़-प्यार अब किस काम का, जब जनता ने राहुल को ठुकरा ही दिया...तो क्या ये खुशी भी झूठी है, जो राहुल गांधी सोशल मीडिया पर दिखाने की कोशिश कर रहे हैं....

दरअसल, राहुल गांधी ने चुनावी हार के बाद अपने पहले अमेठी दौरे से मीडिया को दूर रखा, लेकिन वह सोशल मीडिया पर पल-पल की जानकारी दे रहे हैं। इसी बीच राहुल ने ट्वीट किया, अमेठी आकर खुश हूं, अमेठी आना घर आने जैसा लगता है।

अब राहुल गांधी भले ही अपने घर में सुकुन की सांस भर रहे हो, लेकिम राहुल के दौरे से इतर अमेठी का सियासी पारा टाईट है। राहुल गांधी के दौरे के ठीक पहले केंद्रीय कांग्रेस मुख्यालय के गेट पर एक ऐसा पोस्टर दिखा जिसने राहुल के दौरे को नई दिशा दे दी। पोस्ट में लिखा है, 'न्याय दो, न्याय दो परिवार को न्याय दो, दोषियों को सजा दो, अमेठी के संजय गांधी अस्पताल में जिंदगी बचाई नहीं गंवाई जाती है, राहुल गांधी जवाब दो'। हालांकि इस पोस्टर को किसी गुमनाम ने लगाया है, क्योंकि इसमें कहीं भी प्रेषक का नाम नहीं है।

आपको बता दें कि राहुल गांधी का अमेठी दौरा कई मायने में खास है, क्योंकि कांग्रेसी गढ़ कह जाने वाले अमेठी से तीन बार सांसद चुने गए राहुल गांधी को मोदी की सुनामी में स्मृति ईरानी के सामने घुंटने टेकने पड़े। जिसके कारण ऐसी आशंका जताई जा रही थी कि अब अमेठी राहुल का घर या घर जैसा नहीं रहा, लेकिन राहुल ने एक बार फिर से ऐसे लोगों की मंशा पर पानी फेर दी।

loading...