Breaking News
  • हरियाणा: जाट आंदोलन का 22वां दिन, सरकार और जाट प्रतिनिधियों के बीच कल पानीपत में बातचीत
  • राजनाथ सिंह, मायावती के साथ अन्य कई नेताओं ने भी किया मतदान
  • यूपी सीएम अखिलेश यादव ने भी डाला वोट- यूपी की तरक्की के लिए वोट दिया
  • यूपी: विधानसभा चुनाव के तहत प्रदेश की 12 जिलों की 69 सीटों पर मतदान

लोकतंत्र अपने सबसे बुरे दौर में, संसद में करेंगे बेनकाब!


नई दिल्ली:  दिल्ली में आज सोनिया गांधी की गैर मौजूदगी में कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक हुई। सोनिया के गैरमौजूदगी में इस बैठक की अध्यक्षता कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने की। बैठक के दौरान राहुल गांधी ने केंद्र की सत्ताधारी सरकार और पीएम मोदी पर जमकर हमला बोला।

राहुल गांधी ने काह कि फिलहाल देश का लोकतंत्र अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रहा है। उन्होंने एनडीटीवी पर लगे प्रतिबंध का हवाला देते हुए कहा कि मोदी सरकार अपने खिलाफ बोलने वाले को चुप कराना चाहती है, इस लिए अब टीवी चैनलों को भी दंड दिया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार सत्ता के नशे में चुर है, सरकार अपने असहमत लोगों को चुप रखना चाहती है। राहुल ने आगे कहा कि वर्तमान सरकार सवाल पूछने पर राष्ट्रीय सुरक्षा की आड़ में सिविल सोसाइटी को धमका रही है, विरोधी नेताओं को गिरफ्तार कर रही है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकारों का दुरुपयोग कर मोदी सरकार लोगों के मौलिक स्वतंत्रता को दबाने का प्रयास कर रही है। राहुल ने कहा कि सरकार के इन इरादों को विफल करने के लिए हमारा इरादा और मजबूत होगा।

उन्होंने कहा कि यह सरकार अपने खिलाफ सवाल पूछने पर असहज हो जाती है, क्योंकि उनके पास जवाब नहीं होता है। राहुल ने कहा कि संसद के शीतकालीन सत्र में वह सरकार को बेनकाब करेंगे।