Breaking News
  • कश्मीर घाटी, लद्दाख में कड़ाके की शीतलहर जारी
  • पेट्रोल-डीजल के दाम में बढ़ोतरी, कच्चे तेल में नरमी
  • लोकसभा में सत्ता पक्ष, विपक्ष का हंगामा
  • पर्थ टेस्ट : 146 रन से हारा भारत, आस्ट्रेलिया ने की सीरीज में 1-1 से बराबरी
  • चक्रवाती तूफान Pethai Cyclone आज आंध्र प्रदेश के तट से टकराएगा

दिल्ली में किसानों के आंदोलन पर राजनीतिक दलों का ‘कब्जा’

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली में किसानों के प्रदर्शन को सरकार विरोधी राजनीतिक दलों में दोनों हाथ लोक लिया। चुनावी मौसम में अपनी मांगों को लेकर सारकर के खिलाफ हल्ला बोल रहे किसानों के मंच पर सरकार विरोधी राजनीतिक दलों ने कब्जा कर लिया और यहां भी विपक्ष एकता का जबरदस्त नजारा दिखा।

दरअसल, शुक्रवार को राजधानी में अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के बैनर तले जोरदार प्रदर्शन किया। किसानों के इस प्रदर्शन में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के साथ सिताराम येचुरी, फारूक अब्दुल्ला और शरद यादव समेत अन्य कई दलों के लिए मंच पर मौजूद रहे।

हनुमान जी की जाति पर नया खुलासा, जानकर दंग रह जाएंगे!

किसानों के प्रदर्शन में पहुंचे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि, पीएम मोदी अपना वादा निभाए। किसान कर्जमाफी के लिए आंदोलन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि, सरकार ने अमीरों का कर्ज तो माफ कर दिया है। यह किसानों की आवाज है, जिसे आप बंद नहीं कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि किसान अपना हक मांग रहे हैं, किसानों का कर्ज सरकार माफ करे।

बड़ी खबर: ये उपाय सफल रहा तो कोर्ट के फैसले के बिना अयोध्या में बनेगा राम मंदिर

वहीं इस दौरान दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि, अभी पांच महीने बाकी हैं, मैं मांग करता हूं कि केंद्र सरकार स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट लागू करे नहीं तो 2019 में किसान कयामत ढा देंगे। इस बीच कांग्रेस पार्टी ने एक ट्वीट करते हुए कहा कि, यूपीए सरकार के दोनों कार्यकाल में किसानों को फसल के मूल्य के लिए चिंतित नहीं होना पड़ा, लेकिन मोदी सरकार ने प्रत्येक फसल के न्यूनतम समर्थन मूल्य में कमी करके किसान की कमर तोड़ने का काम किया है।

राम मंदिर पर आतंकी मसूद की धमकी, अगर बना मंदिर तो दिखेगा चारों तरफ तबा…

loading...