Breaking News
  • UPElection: 5वें चरण के लिए चुनाव-प्रचार का आज आखिरी दिन
  • जम्मू कश्मीर: शादियों में फिजूलखर्ची पर सरकार ने पेश किया लाई बिल- मेहमानों की संख्या के साथ कई नियम
  • MCD चुनाव के लिए आप पार्टी ने किया 109 उम्मीदवारों का ऐलान
  • इंफाल: पीएम मोदी की चुनावी सभा- मणिपुर में कांग्रेस रहने को अधिकारी नहीं
  • पूर्वी भारत के विकास के बिना भारत का विकास अधूरा- मोदी
  • कांग्रेस जो काम 15 साल में नहीं कर पाई, हम 15 महीनों में करेंग- मोदी
  • पुणे टेस्ट: 333 रन से हारी टीम इंडिया- दूसरी पारी में भी 107 पर ऑलआउट

प्रधानमंत्री के बयान पर संसद में मचा बवाल, दोनों सदन सोमवार तक स्थगित…


NEW DELHI:- केंद्र सरकार के नोटबंदी के फैसले पर शुक्रवार को भी संसद के दोनों सदनों में जमकर हंगामा हुआ। सुबह 11 बजे से लोकसभा-राज्यसभा की कार्यवाही शुरू हुई। राज्यसभा में विपक्षी सदस्यों ने पीएम को बुलाने की मांग के साथ फिर हंगामा किया। लोकसभा अध्यक्ष और राज्यसभा के सभापति की अपील को विपक्षी सांसदों ने अनसूनी कर दी जिसके बाद दोनों सदनों की कार्यवाही सोमवार (28 नवंबर) तक के लिए स्थगित कर दी गई।

विपक्ष अड़ा- अपने बयान पर माफी मांगे PM

सभी विपक्षी दलों का कहना है कि नोटबंदी से आम लोगों को काफी परेशानी हो रही है। पीएम को इस पर कोई फैसला लेना चाहिए। इतना ही नहीं विपक्षी दलों ने पीएम से अपने बयान पर माफी मांगने की मांग की जिसमें पीएम ने कहा था कि विपक्ष को हमारी तैयारियों से दिक्कत नहीं हैं बल्कि नोटबंदी के ऐलान ने उन्हें तैयारी करने का मौका नहीं दिया इसलिए भड़के हैं वो।

पीएम ने विपक्ष का नाम ही नहीं लिया’

राज्यसभा में पीएम मोदी के विपक्षी दलों से माफी मांगने की मांग पर बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि पीएम ने कालेधन को लेकर अपने बयान में विपक्ष का नाम ही नहीं लिया। विपक्ष इसे मुद्दा क्यों बना रही है।

'पीएम के माफी मांगने का सवाल ही पैदा नहीं होता’

बीजेपी सांसद डॉक्टर जितेंद्र सिंह ने कहा, 'पीएम के माफी मांगने का सवाल ही पैदा नहीं होता। सदन में चर्चा चलती रहती है, जरूरी नहीं है कि पीएम लगातार बैठे रहे। पीएम तो कारोबारी के बारे में कह रहे थे ये क्यों चिंतित हैं। उन्होंने विपक्ष के बारे में ये बयान नहीं दिया।

सदन में आकर इमोशन दिखाएं मोदी- राहुल

वहीं दूसरी ओर कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को संसद में आकर बहस करने की चुनौती दी है। राहुल ने पत्रकारों से कहा कि जैसे ही पीएम हाउस में आएंगे दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा। सब साफ हो जाएगा। हम भी बोलेंगे और वो भी बोंलेगे। उन्‍होंने कहा, मैं कहता हूं हाउस में आइए फिर देखते हैं मोदीजी में कौनसा इमोशन दिखता है।