Breaking News

राष्ट्रपति चुनाव: रामनाथ कोविंद और मीरा कुमार के बीच जारी है टक्कर, इन दिग्गजों ने भी किया मतदान

नई दिल्ली: सोमवार को भारतीय लोकतंत्र का सबसे बड़ा दिन माना जा रहा है। आज देश को 15वें राष्ट्रपति के लिए संसद भवन सहित देशभर में मतदान प्रक्रिया चल रही है। नए राष्ट्रपति के चुनाव में बीजेपी एनडीए के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का मुकाबला विपक्षी उम्मीदवार मीरा कुमार से है। दोनों के बीच जबरदस्त टक्कर देखने को मिल रही है।

देश में 15वें राष्ट्रपति के निर्चावन के इए आज देशभर में राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग की जा रही है। संसद के कमरा नम्बर 62 में मतदान कक्ष बनाया गया है, जिसमें 10 बजे से शाम 5 बजे तक वोटिंग की आएगी। जिसमें देश के सांसद, विधायक अपने मताधिकार का प्रयोग कर रहे हैं।

आज संसद भवन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी के नेता मुरली मनोहर जोशी समेत कई नेताओं ने वोट डाल दिया है। संसद भवन के अलावा हर राज्य की विधानसभाओं में सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे तक मतदान हो रहा। संसद के दोनों सदनों में जहां सांसदों की वोटिंग की व्यवस्था की गई है, वहीं राज्य विधानसभाओं में वहां के निर्वाचित सदस्य वोट डाले जा रहे हैं।

राष्ट्रपति चुनाव को लेकर चुनाव आयोग ने कड़ी तैयारी की हुई है। सनसन भवन के साथ साथ सभी राज्यों की विधानसभाओं में भी वोटिंग के लिए ख़ास व्यवस्था की गयी है। सुबह से ही संसद भवन में राष्ट्रपति चुनाव की सरगर्मी देखने को मिली। जब मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस प्रमुख सोनिया गाँधी और उपाध्यक्ष राहुल गाँधी अपने मताधिकार का प्रयोग करने के लिए संसद भवन पहुंचे। इसके साथ ही आज संसद भवन के मानसून सत्र का पहला दिन है। जिसमें राष्ट्रपति चुनाव को लेकर वोटिंग जारी है। आज संसद भवन में साउथ की सभी दलों के सांसद दिखाई दिए। जिन्होंने राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग की।

ख़ास बात बतादें कि सदन के दोनों सदनों में वोटिंग की व्यवस्था की गयी है। वहीँ संसद भवन के साथ ही देश की राज्य विधानसभाओं में भी मतदान जारी है। इसी कड़ी में यूपी में सीएम योगी ने भी अपना मताधिकार का प्रयोग किया। शिवपाल यादव के रामनाथ कोविंद को समर्थन के बाद यूपी में सपा के 12 से 15 विधायक क्रॉस वोटिंग करने की खबरे हैं। सांसदों के लिए हरे रंग का और विधायकों के लिए गुलाबी रंग का मतपत्र बनाया गया है। सभी को ख़ास पेन मुहैया कराया गया है। इसी के जरिये वोट डाले जा रहे हैं। कोई भी अपने पेन का इस्तेमाल नहीं कर सकता है।

बता दें कि राष्ट्रपति चुनाव में हर सांसद के वोट का वैल्यू 708 है,  वहीँ विधायकों के वोटों का मूल्य राज्यों की आबादी के अनुसार लगाया जाता है। अभी उत्तर प्रदेश के विधायक का वोट का वैल्यू सबसे ज्यादा है। यहाँ एक विधायक के वोट की वैल्यू 208, जबकि अरुणाचल जैसे कम आबादी वाले राज्य के विधायक के वोट का मूल्य 8 ही है। ऐसे में कोविंद को निर्वाचक मंडल के कुल 10,98,903 मतों में से 63 फीसदी से ज्यादा मत मिलने की संभावना है।

इस राष्ट्रपति चुनाव में रामनाथ कोविंद का पलड़ा भारी दिख लग रहा है। शुरू से ही सत्ताधारी दल एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को कई दलों का समर्थन हासिल है। NDA के अलावा रामनाथ कोविंद को जेडीयू, AIADMK, BJD, TRS का भी समर्थन हासिल है।

इस चुनाव में सांसद (दोनों सदनों के) विधायक (विधानसभा और विधान परिसद) के लोग हिसा ले रहे है। यह एक अप्रत्यक्ष चुनाव प्रणाली है, इसमें देश की जनता सीधे तौर पर राष्ट्रपति का चुनाव नहीं करती है, यहाँ अप्रत्यक्ष रूप से जनता के चुके हुए प्रतिनिधित अपने मताधिकार का प्रयोग करते हिं। वहीँ इस चुनाव में रामनाथ कोविंद को विपक्ष की मीरा कुमार से कड़ी ताककर मिलने की संभावना है। आज हो रहे मतदान का परिणाम 20 जुलाई को आयेंगे। वहीँ 25 जुलाई को नया राष्ट्रपति शपथ लेगा।   

 

loading...