Breaking News
  • गुजरात: 44 बिल्डर्स और फाइनेंसरों के कई ठिकानों पर आयकर विभाग के छापे
  • सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की वार्षिक समीक्षा बैठक में वित्त मंत्री, कर्ज देने की प्रक्रिया को ईमानदार बनाएं बैंक
  • उत्तर भारत में मौसम का कहर जारी, हिमाचल में 3 की मौत, बादल फटने से मची तबाही
  • भारत-पाक विदेश मंत्रियों की वार्ता रद्द होने के बाद सार्क बैठक पर संकट

JK: आर्मी कैंप पर आतंकी हमले में घायल हुई ‘सेना’ की पत्नी ने दिया बेटी को जन्म

नई दिल्ली: जन्मू-कश्मीर के सुंजवां स्थित आर्मी कैंप पर हुए बड़े आतंकी हमले में पांच जवान शहीद हो गए, जबकि हमले में शामिल सभी चार आतंकियों को करीब 30 घंटे तक चले ऑपरेशन के बाद सेना ने मार गिराया। इस हमले के बाद से से सेना की कैंप पर की सुरक्षा को लेकर कई तरह के गंभीर सवाल खड़े किए जा रहे हैं।

बता दें कि आतंकियों की गोली का शिकार हुए कुछ अन्य लोग अस्पताल भी भर्ती है, उन्हीं में एक गर्भवती महिला भी है, जिन्हें आतंकियों ने गोली मार दी थी। जिसके बाद अस्पताल में इलाज के दौरान जिंदगी और मौत के बीच जूझती महिला ने एक प्यारी सी बिटिया को जन्म दिया है। सेना के डक्टरों के अनुसार महिला की हालत अब खतरे से बाहर है।

VIDEO: सपना के ठुमके पर बेकाबू हुए लोग- बवावल के बाद लाठीचार्ज….

डक्टरों ने बताया कि घायल गर्भवती महिला को सी-सेक्शन के जरिये बच्ची की डिलिवरी कराई गई है। अपने बच्चे को देख घायल महिला ने अपनी सभी गमों को भुलाते हुए अपनी और बेटी की जान बचाने के लिए सेना को धन्यवाद दिया है। आपको बता दें कि पीड़ित महिला राइफलमैन नजीर अहमद की पत्नी हैं।

JK: तीन दिन में दूसरा बड़ा आतंकी हमला, CRPF कैंप को बनाया निशाना, एक जवान शहीद

खबरों के अनुसार जब कैंप पर आतंकियों ने हमला बोला था, तब वह महिला कैंप के अंदर अपने क्वार्टर में ही थी और आतंकियों की गोली इनके पैर में लगी थी, जिसके कारण वह बुरी तरह से घायल हो गई थी। हालांकि इसी बीच सेना के कुछ जवानों ने अपनी जान पर खेल कर महिला को आर्मी अस्पताल में भर्ती कराया था।

JK: लापरवाही का नतीजा है सुंजवां में सेना कैंप पर आतंकी हमला- चौका देने वाला खुलासा...

महिला का ऑपरेशन करने वाले डाक्टरों के अनुसार यह मामला बहुत ही गंभीर था, लेकिन हमारी टीम ने बेहद अच्छा काम किया और मां के साथ बच्चे को भी सुरक्षित बचाया, इसलिए हमें अपनी टीम पर गर्व है।

loading...