Breaking News
  • नागरिकों से अपील कि मुठभेड़ वाली जगहों से दूर रहें- सेना
  • दिल्ली में फिर 71 रुपये लीटर हुआ पेट्रोल, डीजल भी महंगा
  • मोदी ने छत्रपति शिवाजी को जयंती पर श्रद्धांजलि दी
  • प्रधानमंत्री का वाराणसी दौरा , कई करोड़ योजनाओं की दिया सौगात

चुनाव से पहले संसद में पीएम ने पेश किया सरकार का रिपोर्ट कार्ड

नई दिल्ली: देश की संसद में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर चर्चा का जवाब देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को संसद के निचले सदन यानी लोकसभा को संबोधित किया। अपने संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री ने विपक्ष पर जोरदार हमला करने के साथ ही अपनी सरकार का रिपोर्ट कार्ड भी पेश किया है।

पीएम ने कहा कि, इस सरकार की पहचान ईमानदारी के लिए है, पारदर्शिता के लिए है और भ्रष्टाचार पर लगाम कसने के लिए है। उन्होंने कहा कि, हम वो नहीं हैं जो चुनौतियों से भागते हैं, हम चुनौतियों का सामना करते हैं और लोगों की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए काम करते हैं।

उन्होंने कहा कि, कांग्रेस के अहंकार का परिणाम है कि वो 400 से 44 हो गए और हमारे सेवा भाव का परिणाम है कि हम 2 से 282 हो गए। कांग्रेस के 55 वर्षों में देश में स्वच्छता कवरेज केवल 38% था,  हमारे 55 महीनों में बढ़कर 98% हो गया है। हमने अपने कार्यकाल में अधिक गति से काम किया है।

मुजफ्फरपुर शेल्टर होम कांड की जांच में बड़ा झोल, गुस्साएं सुप्रीम कोर्ट ने…

पीएम ने कहा कि, साल 2014 तक कांग्रेस सिर्फ 95 गांव में ऑप्टिकल फाइबर नेटवर्क पहुंचा सकी, हमारी सरकार में 1,16,000 गांवों में ब्रॉडबैंड कनेक्टिविटी है। उन्होंने कहा कि संविधान संशोधन करके हमने गरीब युवाओं को, उनके सपने साकार करने के लिए एक सुविधा दी है। एससी/एसटी और अन्य पिछड़ा वर्ग की व्यवस्था को बिना हाथ लगाए, गरीबों को 10% आरक्षण दिया है।

पीएम ने कहा कि मुद्रा योजना के अंतर्गत अब तक बिना किसी गारंटी के 7 लाख करोड़ रुपया हम लोगों को स्वरोजगार के लिए दे चुके हैं। हमारी सरकार में इस देश में 20,000 हजार से अधिक संगठनों ने अपनी दुकान बंद कर दी, जो विदेशों से धन लाते थे और देश को नुकसान पहुंचाते थे।

बेनामी संपत्ति पर कानून तो बहुत पहले बना हुआ था, लेकिन उस पर संसद में बहस कर ली और वोट ले लिए यही काम चल रहा था। हमने सत्ता में आते ही क़ानून लागू किया और अब बेनामी प्रॉपर्टी निकल रहीं है और ये सभी जानते हैं कि कहां-कहां से निकल रही हैं और किसकी निकल रही है।

जीएसटी के बाद 99 प्रतिशत सामान 18 प्रतिशत या उससे कम टैक्स के दायरे में आया है। एजुकेशन लोन पर ब्याज घटाकर हमने 15% से 11% किया है. इसी तरह आवास पर ऋण में भी अब मध्यम वर्गीय परिवार को बैंक में पैसा जमा करते 5 से 6 लाख रुपये की बचत होने लगी है।

योगी सरकार ने पेश किया अब तक का सबसे बड़ा बजट, जानिए कैसे खर्च होंगे…

LED बल्ब के कारण देश में 50 हजार करोड़ रुपए का बिजली का बिल कम हुआ है। जो गरीब और मध्यम वर्ग के कल्याण में खर्च हो रहा है। हमारी सरकार देश के लोगों के अच्छे स्वास्थ्य और भलाई के लिए काम कर रही है। हार्ट स्टेंट, घुटने की सर्जरी और दवाओं की कीमतें लगातार कम हो रही हैं। जिससे गरीब से गरीब व्यक्ति की मदद हो रही है। जो पहले गरीबी के कारण मौत का इंतजार करते थे, लेकिन अस्पताल नहीं जा सकते थे। अब आयुष्मान भारत योजना के बाद ऐसे करीब 11 करोड़ गरीब अपना इलाज करा चुके हैं।

पीएम ने कहा कि एक अनुमान के अनुसार बीते साढे 4 वर्षों में अकेले ट्रांसपोर्ट सेक्टर में ही 1.25 करोड़ लोगो को नए अवसर मिले हैं। पिछले साढ़े 4 वर्षों में अप्रूव्ड होटलों की संख्या में 50% की बढ़ोतरी हुई है। वो होटल भी नौकरी दे रहे हैं, लेकिन इस ओर किसी का ध्यान नहीं जाता। साथ ही उन्होंने कहा बीते साढ़े 4 वर्षों में अकेले ट्रांसपोर्ट सेक्टर में ही करीब 1.25 करोड़ लोगों को नए अवसर मिले हैं।

चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी का बड़ा ऐलान, सरकार बनी तो तीन तलाक कानून खत्म

loading...