Breaking News
  • राजकीय सम्मान के साथ मनोहर पर्रिकर का अंतिम संस्कार
  • प्रयागराज से वाराणसी तक बोट यात्रा कर रही हैं प्रियंका गांधी
  • बोट यात्रा से पहले प्रियंका ने किया गंगा पूजन, देश का उत्थान और शांति मांगी
  • आतंकवाद के खिलाफ़ कार्रवाई में सुरक्षाबलों के हाथ बड़ी सफलता, 36 घंटों के अंदर 8 आतंकी ढेर
  • पाकिस्तान ने राष्ट्रीय दिवस पर अलगाववादी नेताओं को किया आमंत्रित, भारत ने जताया सख्त ऐतराज
  • शहीद दिवस पर आजादी के अमर सेनानी वीर भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु को नमन कर रहा है देश
  • आज IPL के 12वें सीजन का आरंभ, एम एस धोनी और विराट कोहली आमने-सामने

पीएम बोले- सबके साथ न्याय किया है, जानिए आखिर ऐसा क्या कर दिया

नई दिल्ली: आगामी लोकसभा चुनाव से पहल मास्टर स्ट्रोक लगाते हुए केंद्र की सत्ताधारी नरेंद्र मोदी सरकार ने सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण की लड़ाई छेड़ दी है। एक ओर इस मसले पर संसद में चर्चा हो रही है, वहीं दूसरी ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जनता के बीच भी इसकी चर्चा कर रहे हैं।

इससे पहले बता दें कि सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण के प्रस्ताव को केंद्रीय कैबिनेट ने सोमवार कों मंजूरी दी और मंगलवार को इससे संबंधित बिल लोकसभा से पास भी करा लिया गया। जिसके बाद आज राज्यसभा में बिल पर चर्चा होने वाली है। हालांकि इससे पहले सदन में जोरदार हंगामा हुआ है, जिसके कारण बिल खतरे में दिख रहा है, लेकिन पीएम मोदी को उम्मीद है कि ये अहम बिल राज्यसभा से भी पास होगा।

गौर हो कि पीएम मोदी बुधवार को भाजपा शासित राज्य महाराष्‍ट्र के दौरे पर हैं। अपने दौरे के क्रम में पीएम मोदी ने यहां सोलापुर में विभिन्न विकास परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास करने के साथ ही एक जनसभा को भी संबोधित किया। इस दौरान सवर्ण आरक्षण की बात करते हुए पीएम ने कहा कि, सामान्य वर्ग के गरीबों के लिए 10% आरक्षण पर मुहर लगाकर 'सबका साथ, सबका विकास' के मंत्र को मजबूत किया है।

उन्होंने कहा कि, कल देर रात लोकसभा में एक ऐतिहासिक बिल पास हुआ है। हर वर्ग को आगे बढ़ने का मौका मिले और अन्याय की भावना खत्म हो इस संकल्प के साथ हम जनता के उज्जवल भविष्य के लिए समर्पित है। पीएम ने कहा कि, देश में आरक्षण के नाम पर कुछ लोगों द्वारा झूठ फैलाया जाता था कि दलितों, पिछड़ों और आदिवासियों को मिले आरक्षण को कम कर दिया जाएगा लेकिन हमनें कुछ कम किए बिना अतिरिक्त 10 प्रतिशत आरक्षण देकर सबके साथ न्याय करने का काम किया है।

loading...