Breaking News
  • छत्तीसगढ विधानसभा चुनाव के दूसरे और आखिरी चरण के लिए मतदान
  • CBI विवाद: SC में सीवीसी की रिपोर्ट और निदेशक वर्मा के जवाब की सुनवाई 29 नवंबर तक टाली
  • महाराष्ट्र: पुलगांव में सेना के हथियार डिपो में धमाका, 4 की मौत
  • जम्मू-कश्मीर: शोपियां में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, 4 आतंकी ढेर, एक जवान शहीद, दो घायल

पीएम मोदी ने हर्षिल में जवानों संग मनाई दीवाली, जवानों को खिलाई मिठाई

देहरादून: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को उत्तराखंड में सेना और भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के जवानों के साथ दिवाली मनाई और कहा कि भारत रक्षा क्षेत्र में बड़े कदम उठा रहा है। आईटीबीपी के एक प्रवक्ता के मुताबिक, प्रधानमंत्री भारतीय वायु सेना के एक विशेष विमान से सुबह करीब 7:50 पर हर्षिल गांव पहुंचे और जवानों को मिठाईयां बांटी।

हर्षिल जालंधरी गढ़, भागीरथी नदी और पहाड़ियों के निचली सतह के संगम पर स्थित है।

मोदी के साथ सेना प्रमुख बिपिन रावत भी मौजूद थे।

इस मौके पर सेना और आईटीबीपी के जवानों को बधाई देते हुए मोदी ने कहा कि सुदूर बफीर्ली चोटियों पर आपका अपने कर्तव्य के प्रति समर्पण भाव पूरे देश को ताकत देता है और यह 125 करोड़ भारतीयों के सपनों और भविष्य को सुरक्षित कर रहा है।

मोदी ने कहा, " दिवाली रोशनी का पर्व है जो अच्छाई फैलाता है और डर-भय को दूर करता है। जवानों की प्रतिबद्धता और अनुशासन से देश के लोगों में सुरक्षा की भावना पनपती है।"

प्रधानमंत्री ने यह भी बताया कि जवानों के साथ तब से दिवाली मना रहे हैं, जब वो गुजरात के मुख्यमंत्री थे। उन्होंने पिछले साल अपनी कैलाश मानसरोवर यात्रा के दौरान आईटीबीपी के जवानों से मुलाकात और उनके साथ बिताए समय के बारे में भी बात की।

मोदी ने कहा, "भारत रक्षा क्षेत्र में बड़े कदम उठा रहा है।" साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि पूर्व सैन्यकर्मियों की भलाई के लिए सरकार बहुत कुछ कर रही है, इसमें वन रैंक-वन पेंशन योजना भी शामिल है।

उन्होंने कहा कि संयुक्त राष्ट्र शांति मिशन में भारतीय सशस्त्र बलों ने पूरी दुनिया की वाहवाही बटोरी है।

प्रधानमंत्री ने नजदीकी इलाकों के उन लोगों से भी बातचीत की, जो उन्हें बधाई देने के लिए यहां इकठ्ठे हुए थे।

बाद में मोदी केदारनाथ मंदिर के लिए रवाना हो गए।

प्रधानमंत्री पुनर्निर्माण कार्य में व्यक्तिगत रुचि ले रहे हैं और पिछले छह महीने में दो बार मंदिर का दौरा कर चुके हैं।

मोदी मंदिर के समीप अतिथि गृह के पुनर्निर्माण कार्य पर राज्य सरकार अधिकारियों द्वारा तैयार एक वीडियो प्रजेंटेशन भी देखेंगे।

loading...