Breaking News
  • चार धाम यात्रा: छह महिने के बाद खुले केदारनाथ धाम के कपाट, कल खुलेंगे बद्रीनाथ के कपाट
  • वो (ममता) अब मेरे लिए पत्थरों और थप्पड़ों की बात करती हैं: मोदी
  • पश्चिम बंगाल के बांकुरा में पीएम मोदी की चुनावी रैली, ममता पर बोला हमला
  • लोकसभा की 543 में से 542 सीटों के चुनावी घमासान
  • लोकसभा चुनाव 2019 के लिए वोटों की गिनती, बड़ी बढ़त की ओर NDA

कांग्रेस के कारण हिन्दुस्तान ने खोया करतारपुर, पीएम मोदी का ‘ऐतिहासिक हमला’

नई दिल्ली: भारत-पाकिस्तान के बीच पिछले काफी दिनों से जारी करतारपुर कॉरिडोर की चर्चाओं के बीज आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी करतारपुर कॉरिडोर पर बयान दिया है। राजस्थान के हनुमानगढ़ में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने करतारपुर कॉरिडोर का ठीकरा भी कांग्रेस के सिर फोड़ दिया।

सभा में मौजूद लोगों से पीएम मोदी ने कहा कि, अगर विभाजन के वक्त कांग्रेस के नेताओं ने थोड़ी भी समझदारी, संवेदशीलता और गंभीरता दिखाई होती तो तीन किलोमीटर की दूरी पर हमारा करतारपुर हमसे अलग नहीं होता। बता दें कि सिख गुरु गोविंद सिंह से जुड़ा है धर्मस्थल है, जो खास तौर पर सिखों के लिए बेहद ही अहम है।

कौन है बुलंदशहर हिंसा का मुख्य आरोपी, पुलिस ने किया गिरफ्तार

रैली के दौरान पीएम ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि, कांग्रेस को साल 1947 में इसकी याद क्यों नहीं आई कि करतारपुर हिन्दुस्तान में होना चाहिए? साथ ही उन्होंने कहा कि अगर आज करतारपुर कॉरिडोर बन रहा है तो इसका क्रेडिट मोदी को नहीं, देश की जनता को जाता है।

राहुल को भारी पड़ा मोदी के हिंदुत्व पर सवाल, नेहरू से लेकर सोनिया तक..…

पीएम मोदी ने कहा कि, आपने एक ऐसे व्यक्ति को वोट देकर प्रधानमंत्री बनाया जो आपके लिए ही जीता-जागता है। अगर वो वो जूझता है तो आपके लिए और अगर झुकता भी है तो वो भी सिर्फ आपके लिए। उन्होंने कहा कि, सत्ता के मोह को समझा जा सकता है लेकिन सत्ता और राजगद्दी के मोह में कांग्रेस ने जो गलतियां की उन्हें आज तक भुगतना पड़ रहा है।

क्या राहुल गांधी असली हिंदू हैं? सुषमा ने जो कहा सुनकर दंग रह जाएंगे..…

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि, कांग्रेस की हर बड़ी गलती को ठीक करने का काम मेरे नसीब में आया है और मेरा नसीब मेरी हाथ की लकीरों ने नहीं बल्कि सवा सौ करोड़ देशवासियों के हाथ में है। पीएम मोदी ने कहा कि अगर एक किसान का बेटा, सरदार पटेल देश के पहले प्रधानमंत्री बने होते तो आज देश के किसानों की ऐसी हालत न होती। उन्होंने कहा कि एक ही परिवार की 4 पीढ़ी जिन्हें न तो खेत की समझ है और न ही किसान की, उन्होंने ऐसी नीति बनाई कि देश का किसान बर्बाद हो गया।
loading...