Breaking News
  • आज शाम 6 बजे तक खत्म हो सकता है कर्नाटक का नाटक, कुमारस्वामी करेंगे फ्लोर टेस्ट
  • बिहार के दरभंगा में अभी भी बाढ़ से राहत नहीं, लोगों ने सड़क पर ठिकाना
  • आज होगा ब्रिटेन के अगले प्रधानमंत्री का चयन
  • बीजेपी संसदीय दल की बैठक के बाद, पीएम मोदी कर सकते हैं सांसदों को संबोधित

चुनावी मौसम में पाकिस्तान ने बिछाया ‘हनी का जाल’

नई दिल्ली : अभी जहां देश में चुनाव का माहौल चल रहा हैं, वहीं पाकिस्तान इस चुनावी माहौल का फायदा उठाकर ‘हनी’ बांटने का काम कर रहा है। जिसमें एक भारतीय जवान भी उलझ गया है। सेना के अन्य अधिकारियों के इस जवान पर संदेह हुआ और उन्होंने इसपर नज़र रखना शुरू कर दिया। जिसके बाद इस जवान को गिरफ्तार कर लिया गया।

इस जवान पर भारतीय सेना के खुफिया जानकारी साझा करने के आरोप है। आपको बता दें कि इस जवान को मध्य प्रदेश के महू से बुधवार की रात को गिरफ्तार किया गया है। जहां वह तैनात था। डिफेंस सूत्रों के अनुसार 26 साल के जवान जो कि हवलदार के तौर पर महू में पोस्टेड थे। उसे इंटेलीजेंस ब्यूरो और लोकल पुलिस के एक ज्वॉइंट ऑपरेशन में गिरफ्तार किया गया है।

सेना के सूत्रों के अनुसार जवान पर कई दिनों से नजर रखा जा रहा था। अभी तक जो पता चला है उसके अनुसार जवान फेसबुक के माध्यम से पाकिस्तान की एक महिला के संपर्क में था। जिसके साथ जवान सोशल मीडिया के माध्यम से ही जानकारियों को साझा कर रहा था।

आपको बता दें कि सेना ने जवानों के लिए हनी ट्रैप के लिए भी कड़े नियम बनाए है। जिसके अनुसार कोई भी जवान या अधिकारी किसी प्रकार की गोपनीय जानकारी किसी से साझा नहीं कर सकते हैं। हालांकि, हाल के दिनों में कुछ ऐसे मामले सामने आए हैं जिसमें जवानों को हनी ट्रैप का शिकार बनाया गया है।

बता दें कि यहां हनी या हनी जाल का अर्थ हनी ट्रैप से है। जिसमें खुबसूरत लड़कियों या खुबसूरत लड़कियों के तस्वीरों के जरिए जवानों को फंसाया जाता है । जिसके जरिए ISI या दुश्मन देश, जवानों को फंसाकर उससे सुरक्षा संबंधित दस्तावेज या खुफिया कागजात या खुफिया जानकारी मांगता है। जिसमें उलझकर भारतीय जवान वह सब करने को मजबूर हो जाता है, जिसे वह नहीं करना चाहता। क्योंकि इस चैटिंग के दौरान जवान कभी-कभी कुछ ऐसी गलतियां कर देते है। जिसके बाद वे उसे ब्लैकमेल करने लगते है और वह इसके सामने बेबस हो जाता है।

loading...