Breaking News
  • बैंक खातों को आधार से जोड़ना अनिवार्य: आरबीआई
  • कट्टरता के खिलाफ भारत मजबूत कार्रवाई कर रहा है: सेना प्रमुख बिपिन रावत
  • कुपवाड़ा में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़
  • विदेश मंत्री सुषमा स्वराज आज से बांग्लादेश के दो दिवसीय दौरे पर होंगी रवाना

जिसका डर था वहीं हुआ- कश्मीर में हिजबुल आतंकियों के हाथ लगा केमिकल हथियार !

नई दिल्ली: मौजूदा समय में आतंकवाद एक लाइलाज बीमारी की तरह दिख रहा है, आतंकियों के खिलाफ जारी अभियान के बाद भी आतंक की खेती में लगातार इजाफा ही होता जा रहा है। वैसे तो आतंक के डंक से पूरा देश ही नहीं पूरी दुनिया परेशान है, लेकिन देश का एक राज्य जम्मू-कश्मीर आतंक से सबसे ज्यादा प्रभावित है, ऐसे में आप ऐसा भी कह सकते हैं कि जम्मू-कश्मीर में आतंक की खेती होती है, जिसके लिए खाद और बीज पाकिस्ता की ओर से बोया जाता है।

सेना की तमाम कार्रवाई के बाद भी आतंक की खेती तेजी से बढ़ रही है, इसके एक और प्रमाण सामने आया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार भारत को जिस बात का डर तो वो हो चुका है। खबर है कि जम्मू-कश्मीर में सक्रिय आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन के हाथ अब केमिकल हथियार भी लग गए हैं।

आतंकी केमिकल हथियार का इस्तेमाल भारतीय सुरक्षा बलों के साथ-साथ देश के किसी बड़े शहर पर भी कर सकते हैं। लिहाजा भारतीय सेना को पहले से ही सतर्क कर दिया गया है। जानकारी के अनुसार आतंकियों के पास केमिकल हथियार पाकिस्तानी सेना ने पहुंचाए हैं, और भारत में इसकी डिलेवरी पीओके के रास्ते की गई है।

हालांकि इस बात की जानकारी अब तक नही मिल सकी है कि इन हथियारों की संख्या कितनी है और इससे कितना नुकसान पहुंचाया जा सकता है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार आतंकियों के हाथ केमिकल हथियार लगने का खुलासा एक ऑडियो मैसेज के हवाले से किया जा रहा है। सुरक्षा एजेंसियों द्वारा इंटरसेप्ट किए गए इस मैसेज में भारत में आतंक फैलाने के पाकिस्तानी मंसूबों का भी पता चला है। खबरों के अनुसार सुरक्षा एजेंसियों को इस बात की जानकारी भी मिली है कि  आतंकियों तक पाकिस्तानी केमिकल हथियारों की पहली खेप पहुंच चुकी है। 

loading...