Breaking News
  • एशियाई एथलेक्टिस चैंपियनशिप: भारत की PUChitra ने 1500 मी. रेस में जीता स्वर्ण
  • एशियाई एथलेक्टिस चैंपियनशिप: 200 मी. रेस में दुत्ती चंद ने जीता कांस्य
  • दो दिन के वाराणसी दौरे पर प्रधानमंत्री मोदी, 25 अप्रैल को भव्य रोड शो 26 को नामांकन
  • जम्मू-कश्मीर के अनंतनाग में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में 2 आतंकी ढेर

आज फिर ईडी के सामने पेश हुए दिग्गज कांग्रेसी नेता, जानिए आखिर क्या है पूरा मामला

नई दिल्ली: कांग्रेस की नेतृत्व वाली यूपीए सरकार के दौरान वित्त मंत्री पी. चिदंबरम और उनका बेटा कार्ति चिदंबरम पिछले काफी समय से भ्रष्टाचार के मामले को लेकर सुर्खियों में बने हैं। इस बीच शुक्रवार को पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम प्रवर्तन निदेशालय के समक्ष  पेश हुए।

आपको बता दें कि आईएनएक्स मीडिया मामले में समूह को 2007 में विदेश निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) की मंजूरी देने से जुड़े मामलो की जांच पिछले काफी समय से चल रही है। इसी मामले में पूछताछ के बुलाए जाने पर चिदंबरम शुक्रवार सुबह करीब 11 बजे प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी के जामनगर के कार्यालय पहुंचे।

संसद में बोले मोदी- यो तो वहीं हुआ 'उल्टा चोर चौकीदार को डांटे'

दो महीनों के अंदर यह तीसरी बार है जब पूर्व वित्त मंत्री बीते ईडी के समक्ष पेश हुए हैं। अधिकारियों के अनुसार, चिदंबरम से धनशोधन रोकथाम अधिनियम के तहत पूछताछ होगी। चिदंबरम से पहले गुरुवार को ईडी ने उनके बेटे कार्ति चिदंबरम से करीब छह घंटे से भी अधिक समय तक पूछताछ की है।

चुनाव से पहले संसद में पीएम ने पेश किया सरकार का रिपोर्ट कार्ड

बता दें कि मामले में पी.चिदंबरम पर आरोप है कि उन्होंने साल 2007 में वित्त मंत्री रहते हुए अपनी पावर का गलत इस्तेमाल करते हुए बेटे कार्ति को एफआईपीबी की मंजूरी दिलाने में मदद की। इस मामले में ईडी के साथ-साथ सीबीआई भी जांच कर रही है। पिछले दिनों 21 जनवरी सीबीआई ने ने भी चिदंबरम के खिलाफ अभियोजन की स्वीकृति जेने की मांग की थी।

चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी का बड़ा ऐलान, सरकार बनी तो तीन तलाक कानू…

loading...