Breaking News
  • मंदी से निपटने के लिए सरकार ने किए बड़े ऐलान, ऑटो सेक्टर को होगा उत्थान
  • तीन देशों की यात्रा के दूसरे चरण में यूएई की राजधानी आबू धाबी पहुंचे मोदी
  • देश भर में श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम, राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने दी शुभकामनाएं
  • 1st Test Day-2: भारत की पहली पारी 297 रनों पर सिमटी, रवींद्र जडेजा ने बनाए 58 रन

धार 370 और 35-A हटाने पर जम्मू-कश्मीर से बड़ी खबर

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में धारा 370 और 35-A  को लेकर फैली अफवाहों के बीच अचानक राजनीतिक घटनाक्रम तेज हो गये है। मौजूदा हालातों का हवाला देते हुए शनिवार को पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला प्रतिनिधिमंडल के साथ राज्यपाल से मिलने पहुंचे। जबकि इसके एक दिन पहले इसी मसले पर पूर्व सीएम व पीडीपी नेता महबूबा मुफ्ती ने भी राज्यपाल से मुलाकात की है।

महामहीम के साथ मीटींग के बाद उमर अब्दुल्ला ने कहा कि राज्यपाल ने उनके सामने भी अपने कल के बयान को दोहराते हुए कहा कि राज्य में 370, 35-A या फिर परिसीमन पर कोई फैसला नहीं होने जा रहा है। साथ ही उमर ने मांग की है कि मामले पर देश की संसद से जवाब आना चाहिए।

राज्यपाल से मीटिंग के बाद उमर ने कहा, कि हम अधिकारियों से पूछना चाहते हैं कि ये क्या हो रहा है? वे कहते हैं कि कुछ हो रहा है, लेकिन क्या हो रहा है इसकी जानकारी उन्हें भी नहीं है। इस अस्पष्टता के बाद हमने गवर्नर से मिलने का फैसला लिया। हमने उनसे पूछा कि आखिर क्या हो रहा है, तब गवर्नर ने एक बार फिर अपना वहीं बयान दोहराया।

बता दें कि केंद्र की सत्ता में दूसरी बार लौटते ही गृह मंत्री अमित शाह ने संसद में कश्मीर मसले पर अपनी बात रखते हुए साफ किया था कि जम्मू-कश्मीर को मिला धारा 370 या 35-A स्थाई नहीं बल्कि अस्थाई है।

जिसके बाद अब अचानक से ऐसी खबरें फैलने लगीं कि सरकार जम्मू-कश्मीर को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने वाली धार 370 को जबरन छिनना चाहती है। लेकिन राज्यपाल सत्यपाल मल्किम ने इस तरह की खबरों का खंडन करते हुए महज अफवाह करार दिया है।

 

loading...