Breaking News
  • आज देश मना रहा है कि 47वां विजय दिवस
  • यूपी: रायबरेली दौरे पर पीएम मोदी, आधुनिक कोच फैक्ट्रीे का किया निरीक्षण
  • एमएनएफ अध्यक्ष ज़ोरामथंगा बने मिजोरम के नए मुख्यमंत्री

तीन तलाक पर मोदी सरकार को बड़ा झटका: राज्यसभा में विपक्ष का हंगामा

नई दिल्ली: केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार मानसून सत्र के आखिरी अपनी सरकार के सबसे महत्वपूर्ण बिल को पास करवाने के लिए राज्यसभा में पेश किया है। वहीँ बिल को लेकर राज्यसभा में जबरदस्त हंगामा शुरू हो गया है। जिससे राज्यसभा की कार्यवाही भी बाधित हो रही है।

बतादें कि आज 16वीं लोकसभा के आखिरी मानसून सत्र में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार अपने सबसे महत्वपूर्ण तीन तलाक बिल को पेश कर उसे पास करवाने के लिए जद्दोजहद कर रही है। लेकिन बिल को राज्यसभा में पेश किए जाने के तुरंत बाद हंगामा शुरू हो गया है। विपक्ष ने राफेल के मुद्दे पर सरकार से सवाल करते हुए हंगामा शुरू कर दिया। इस दौरान टीएमसी सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने कहा कि शुक्रवार को प्राइवेट बिलों पर चर्चा होती है, ऐसे में सरकार तीन तलाक बिल कैसे ला सकती है। वहीँ कई अन्य सदस्यों ने भी  इसका विरोध किया है।  

कांग्रेस सांसद का विवादित बयान

कांग्रेस नेता का बड़ा हमला: चौकीदार, भागीदार ही नहीं देश के गुनहगार भी हैं मोदी

राज्यसभा में कांग्रेस सदस्य हुसैन दलवई ने राम और सीता पर विवादित बयान दे दिया, जिसके बाद सदन में जमकर हंगामा हुआ। दलवई ने कहा कि शक के आधार पर राम ने भी सीता को छोड़ा था। हर धर्म में पुरुषों का वर्चस्व है तो ऐसे में इस्लाम पर ही सवाल क्यों? वहीँ उनके इस बयान पर एनडीए सदस्यों ने उनसे माफ़ी मागने को कहा।

केरल में रेड अलर्ट: बचाव कार्य के लिए उतरी सेना और एनडीआरएफ

मालूम हो कि शुक्रवार को मानसून सत्र का आखिरी दिन है। ऐसे में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार तीन तलाक (तलाक-ए-बिद्दत) बिल में संशोधन कर पुनः राज्यसभा में पेश किया है। गुरुवार को मोदी कैबिनेट की बैठ में बिल में संशोधन को मंजूरी दी गयी थी। जिसके बाद तीन तलाक के मामले में गैर जमानती अपराध तो माना गया है लेकिन संशोधन में अब मजिस्ट्रेट को जमानत देने का अधिकार दे दिया गया है। जिसके बाद इसे शुक्रवार को राज्यसभा में पेश किया गया है।

यह भी देखें-    

loading...